मध्यप्रदेश के ओरछा में रामराजा सरकार को भले ही राज्य शासन राजा की तरह प्रोटोकॉल देता हो मगर उनके दरबार तक पहुंचाने इस क्षेत्र में जनसुविधाओं का अभाव रहा है. यहां बुंदेलखंड की सनातन समस्या अधोसरंचना की कमी के रुप में लंबे समय से है. ऐसे में धार्मिक एवं धर्मस्व विभाग ने ओरछा को संवारने कदम बढ़ाया है उससे रामराजा सरकार के उपासकों को आस जगी है. ओरछा में मध्यप्रदेश सरकार श्रद्धालुओं के लिए बड़ा यात्री सदन व मंगल परिसर बनाने जा रही है. गरीब एवं साधनहीन श्रद्धालुओं के हित में यह एक सार्थक कदम माना जा रहा है. 

बुंदेलखंड में बेतवा के तट पर ऐतिहासिक रामराजा सरकार मंदिर है. मंदिर में भगवान राम को रामराजा सरकार के रुप में पूजने न केवल देश भर से बल्कि विदेशी पर्यटक भी यहां दर्शन को आते है. ओरछा के प्राचीन मंदिरों एवं वहां के इतिहास व स्थापत्य कला के कारण विदेशी पर्यटकों का ओरछा में आगमन निरंतर बढ़ा है. इसी कारण से ओरछा में आधुनिक सुख सुविधओं से युक्त रेस्ट हाउस व होटलों की श्रृंखला विकसित हुई है. मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम के भी यहां ओरछा रिट्रीट और शीश महल नाम से दो होटल हैं मगर उन तक पहुंच बुंदेलखंड से रोज आने वाले हजारों गरीब श्रद्धालुओं की नहीं है. ऐसे में टीकगमढ़, सागर, छतरपुर, पन्ना, निवाड़ी से लेकर झांसी, दतिया, ग्वालियर, शिवपुरी सहित मध्यप्रदेश के लाखों साधनहीन श्रद्धालुओं के लिए ओरछा तीर्थ पर विश्राम और निवास परेशानी का सबब बनता रहा है. मध्यप्रदेश सरकार के धार्मिक एवं धर्मस्व विभाग ने इस दिशा में जो पहल की है वो सराहनीय है. प्रदेश की नवगठित सरकार के धार्मिक एवं धर्मस्व मंत्री पी. सी शर्मा ने बीते रोज यहां विशाल यात्री सदन के निर्माण की आधारशिला रखी है. ओरछा में ये यात्री सदन मध्यप्रदेश सरकार 96 लाख की लागत से बनवाने जा रही है. यह यात्री सदन रानी गणेश कुंवरि तीर्थयात्री सेवा सदन के नाम से बनाया जा रहा है. इस यात्री सदन के बनने से रामराजा सरकार के गरीब एवं मध्यमवर्गीय भक्तों को ओरछा दर्शन के दौरान रिहायश और विश्राम के लिए भटकना नहीं पड़ेगा. धर्मस्व विभाग इसके अलावा ओरछा के केशवकुंज मंगल परिसर बनवा रहा है जो हिन्दी के महाकवि केशवदास की स्मृति को समर्पित रहा. केशवकुंज मंगल परिसर के बनने से रामराजा के भक्तगण यहां भागवत कथा विवाह आदि मांगलिक कार्य आदि कराने में सहूलियत पा सकेंगे. इसके अलावा सरकार ने ओरछा को राय प्रवीण कला केन्द्र नाम से कलाओं पर केन्द्रित भवन की सौगात भी दी है. इस भवन के जरिए नृत्य, वादन एवं कीर्तन की लोककलाओं व उनसे संबंधित कलासाधकों को ओरछाधाम में मंच मिलेगा. ओरछा में इन तीन सौगातों के साथ ही धार्मिक एवं धर्मस्व न्यास विभाग आगामी चरण में ओरछा के जीरन एवं अछरु माता परिसर में श्रद्धालुओं के लिए धर्मशालाएं बनाने वाला है. धार्मिक एवं धर्मस्व विभाग की इस पहल ने रामराजा सरकार के भक्तों में ओरछा तीर्थ को भारत का बड़ा पर्यटन स्थल बनाए जाने की उम्मीद जगाई है.
ओरछा में इस निर्माण के साथ ही मध्यप्रदेश की सरकार ने जो एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है वो काबिले गौर है. दरअसल मध्यप्रदेश में धर्मस्व विभाग के अंतर्गत दो तरह के मंदिर है. जिन मंदिरों से सेवापूजा खर्च के लिए सरकारी जमीन लगी है वे तो ठीक हैं मगर बिना जमीन वाले मंदिरों के साथ संकट था. यहां आराध्य की सेवा पूजा, आरती प्रसाद से लेकर तमाम खर्चों के लिए पुजारियों को सिर्फ 500 से 1000 रुपए अब तक मिल रहे थे जो नाकाफी थे. इस कम राशि में पुजारी माफी औकाफ के ऐतिहासिक मंदिरों की सेवा पूजा करते हुए अपना जीवन यापन नहीं कर पा रहे थे. मंदिरों में भगवान के लिए प्रसाद और आरती तक को पुजारी धार्मिक अनुष्ठानों एवं जजमानों के मोहताज थे. ये समस्या लंबे समय से सरकारी मंदिरों के पुजारी उठा रहे थे. इस पर प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने शीघ्रता से सही फैसला लिया है. धार्मिक एवं धर्मस्व मंत्री पी सी शर्मा ने इस संबंध में घोषणा की है कि अब माफी औकाफ के सभी मंदिरों को सेवा पूजा के लिए पहले से तीन गुना मानदेय मिलेगा.
इस कदम से मध्यप्रदेश में राज्य संरक्षित धार्मिक एवं आराध्य स्थलों की परंपरा को जीवित और सुरक्षित बनाए रखने में सरकार पीछे खड़ी रहेगी का विश्वास पुजारियों और आम जनता के बीच मजबूत हुआ है. अब टीकमगढ़ प्रशासन की जिम्मेदारी है कि वे ओरछा को संवारने का यह काम तेजी और गुणवक्ता के साथ पूरा कराएं ताकि रामराजा के भक्तों को इनसे सहूलियत मिल सकें.


जानिए 2016 में कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में

1. असम में पुलिस फायरिंग के चलते टूटा हाई वॉल्टेज तार, 11 लोगों की मौत, 20 घायल

2. केंद्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी, जांच में मैगी सफल: नेस्ले इंडिया

3. गैर-चांदी आभूषणों पर उत्पाद शुल्क को लेकर जेटली अडिग

4. शंकराचार्य का विवादित बोल- साई पूजा की देन है महाराष्ट्र का सूखा

5. कन्हैया और उमर खालिद समेत 5 छात्र हो सकते है JNU से सस्पेंड

6. करोड़ों लोगों ने देखा प्यार का ये इजहार, आप भी जरूर देखिए

7. महाराष्ट्रः बार-बालाओं पर पैसे लुटाने या उन्हें छूने पर होगी सजा

8. नितिन गडकरी की पीएम मोदी को सलाह, गजलें सुनें, टेंशन फ्री रहें

9. कोल्लम हादसा-मंदिर के पास मिली विस्फोटकों से भरी तीन गाड़ि‍यां

10. शत्रु ने की नीतीश जमकर तारिफ, कहा- 2019 में PM पद के दावेदार

11. पाक अदालत में सबूत के तौर पर पेश हुआ ग्रेनेड फटा, 3 घायल

12. असम-बंगाल में हुई बंपर वोटिंग, CM गोगाई के खिलाफ केस दर्ज


************************************************************************************

बॉलीवुड      कारोबार      दुनिया      खेल      इन्फो     राशिफल     मोबाइल

************************************************************************************


पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.



अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स