देश और देशवासी जिस दौर से गुजर रहे हैं ऐसे समय में एक राष्‍ट्रीय सरकार का होना बहुत जरूरी महसूस होने लगा है. सुनने में यह बात अटपटी लग सकती है. इसे एक नया शिगूफा भी कहा जा सकता है. वर्तमान समय की सबसे बड़ी जरूरत यही है. अब यह महसूस होने लगा है कि एक राष्‍ट्रीय सरकार ही हमें कोराना के संकट से बचने में मदद कर सकती है.

महाराष्‍ट्र, गुजरात और बंगाल में रहने वालों की स्थिति अच्‍छी नहीं है. हॉस्‍पीटल नहीं हैं. हॉस्‍पीटल हैं तो उपचार नहीं हो रहे हैं. अस्‍पतालों में भगवान भरोसे मरीजों को छोड़ दिया गया है. सरकार और प्रशासन कुछ भी कर पाने में असमर्थ है. मुंबई पुलिस के पुलिसकर्मी काफी संख्‍या में संक्रमित हो चुके हैं. यही स्थिति बेस्‍ट के कर्मचारियों की है. अस्‍पतालों में भर्ती मरीज बता रहे हैं कि डॉक्‍टर उनके पास आने से डरते हैं. उन्‍हें अर्द्धप्रशिक्षित नर्सों और सफाई कर्मचारियों के भरोसे छोड़ दिया गया है. जो कुछ भी हो रहा है वह भगवान भरोसे हो रहा है.

महाराष्‍ट्र, गुजरात और पश्चिम बंगाल की जनता मर रही है और उन राज्‍यों की सरकारें स्थिति को संभाल पाने में असफल साबित हो रही हैं. कहने वाले तो यह भी कह सकते हैं कि देश में जो कुछ भी हो रहा है, वह केन्‍द्र और राज्‍य सरकारों का मिला जुला फैसला है. फैसला करना और उसका क्रियान्‍वयन दोनों अलग-अलग बातें हैं. फैसले की गभीरता क्रियान्‍वयन के स्‍तर पर कमजोर पड़ रही है.

इस गंभीर समस्‍या से निपब्टने का उपाय क्‍या है. ऐसी क्‍या व्‍यवस्‍था हो जिससे नीति और उसका अनुपालन एक जैसा हो. जो सोचे, वही करें. जैसा सोचे, वैसा करें. लेकिन यह कैसे संभव है. यह तभी संभव है जब एक राष्‍ट्रीय सरकार का गठन हो. नीति बनाने और उसके क्रियान्‍वयन की जिम्‍मेदारी उसकी हो.

सोचने में यह अजीब लग सकता है. देखने में यह लोकतंत्र पर प्रहार भी लग सकता है. एक चुनी हुई सरकर पर काम न करने देने का आरोप भी लग सकता है. इससे बचने के ‍लिए हम देशवासियों को मरने देंगे. नहीं, कतई नहीं. भारतीय संविधान के अनुच्‍छेद 355 में बाह्य आक्रमण और आंतरिक अशांति से राज्य की संरक्षा करने का संघ का कर्तव्य की चर्चा की गई है. कोरोना से जो स्थिति उत्‍पन्‍न हुई है वह कहीं से भी आंतरिक अशांति से कम नहीं है.

यह उम्‍मीद की जा सकती है कि एक राष्‍ट्रीय सरकार के गठन से बहुत सारी समस्‍यायें हल हो जाएंगी. मजदूरों के पलायन पर अंकुश लग सकेगा. चिकित्‍सा व्‍यवस्‍था बेहतर हो पाएगी. एक समान प्रशासनिक फैसले लिए जाएंगे. आज समस्‍या यह है कि कोई भी फैसला कोई भी सरकार ठीक ढंग से नहीं ले पा ही है. कभी शराब की दुकान खोल देती है तो अचानक कुछ घंटे के बाद उसे बंद करने का फैसला करती है. इसी प्रकार के फैसले हर क्षेत्र में लिए जा रहे हैं, जिससे समस्‍या सुलझने के बजाए और विकराल होती जा रही है.

लॉकडाउन के तीसरे चरण में पहुंच जाने के बावजूद हम अभी तक समस्‍या की गंभीरता को समझ नहीं पाए हैं. यह एक ऐसी समस्‍या है जिसका समाधान दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सोचा जाना चाहिए. 135 करोड़ की जनता को बचाना हमारा पहला लक्ष्‍य होना चाहिए. कोरोना के साथ जीने की बात करना अच्‍छी बात है मगर एक बार तो इस पर नियंत्रण लाना भी जरूरी है.

मजदूरों के पलायन से एक नई समस्‍या खड़ी हो गई है. जिन जिलों, शहरों और गांवों में कोरोना के एक भी मरीज नहीं थे, अब वहां भी कोरोना के मरीज मिलने लगे हैं. मजदूरों को यह बात समझनी चाहिए. जिन मजदूरों को खाने का संकट है उन्‍हें गांव जाने के बजाए सरकार और समाजसेवी संगठनों पर भोजन का प्रबंध करने का दवाब डालना चाहिए. मकान मालिक यदि किराये के लिए परेशान कर रहा हे तो उसकी शिकायत पुलिस में करें. मगर भागे नहीं. अपनी कर्मभूमि को छोड़कर न जाएं. क्‍योंकि यही कर्मभूमि हमें मातृभूमि में रहने लायक बनती है. 


जानिए 2020 में कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************

बॉलीवुड      कारोबार      दुनिया      खेल      इन्फो     राशिफल     मोबाइल

************************************************************************************


पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.



अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स