जबलपुर. पश्चिम मध्य रेल प्रशासन ने ऊर्जा के संरक्षण में एक महत्वपूर्ण व अत्याधुनिक कदम उठाते हुए जबलपुर स्टेशन के प्लेटफार्म पर नई व्यवस्था की है, जिसमें ट्रेन के प्लेटफार्म पर पहुंचने के समय ही प्लेटफार्म की 70 फीसदी लाइट चालू हो जायेंगी और ट्रेन के प्लेटफार्म से आगे निकलते ही स्वत: ही बंद हो जायेगी.

अभी तक रेलवे स्टेशन पर शाम के समय सभी लाइटें चालू रहती थीं, चाहे ट्रेन हों या नहीं, फालतू बिजली का उपयोग होता था, जिसे देखते हुए पमरे प्रशासन ने ट्रेन के प्लेटफार्म पर रहने के समय सभी लाइटें चालू रखने व अन्य समय में मात्र 30 फीसदी ही लाइटें चालू रखने की व्यवस्था पर काम शुरू किया.

होम व स्टार्टर सिग्नल के साथ प्लेटफार्म की लाइटिंग सिस्टम को जोड़ा

इस नई व्यवस्था के संबंध में पश्चिम मध्य रेलवे की मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्रीमती प्रियंका दीक्षित ने बताया कि पमरे के महाप्रबंधक शैलेंद्र कुमार सिंह के दिशा-निर्देशन पर इस व्यवस्था पर काम किया गया और  जबलपुर स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 1 के लिए होम और स्टार्टर सिग्नल के साथ प्लेटफॉर्म लाइटिंग को सफलतापूर्वक जोड़ दिया गया. 

ट्रेन नहीं तो 30 फीसदी लाइटें ही चालू, ट्रेन के आते ही सभी लाइटें स्वत: चालू 

इस नई व्यवस्था के सफलतापूर्वक काम करने के पश्चात अब जबलपुर के प्लेटफार्म नंबर 1 पर शाम से सुबह (12 घंटा) तक प्लेटफार्म की लाइटें जब ट्रेन नहीं होंगी तो 30 फीसदी चलेंगी, लेकिन जैसे ही ट्रेन होम सिग्नल पर पहुंचेंगी तो शेष 70 फीसदी लाइटें स्वत: चालू हो जायेंगी, इसी तरह जब ट्रेन प्लेटफार्म से छूटकर स्टार्टर सिग्नल क्रास करेगी, वैसे ही लाइटेें ऑफ हो जायेगी.

जबलपुर से पहले नरसिंहपुर स्टेशन पर भी इसी तरह की लाइटिंग व्यवस्था चालू कर दी गई हैं. पमरे प्रशासन के मुताबिक भविष्य में पश्चिम मध्य रेलवे के सभी स्टेशनों पर इस तरह की व्यवस्था की जायेगी, ताकि बेवजह ऊर्जा के व्यय को रोका जा सके, ताकि पर्यावरण संरक्षण की दिशा में पमरे का प्रयास सार्थक हो.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।