नई दिल्ली. मजदूरों को घर वापसी के लिए चलायी गई विशेष रेलगाड़ी श्रमिक स्पेशल किलकारी एक्सप्रेस बनी हुई है. आज शुक्रवार 5 जून को ओडिशा के टिटलागढ़  में एक और बच्चे का जन्म स्पेशल ट्रेन में ही हुआ. इस तरह से यह श्रमिक स्पेशल में जन्म लेने वाला 37वां बच्चा बन गया है.

रेलवे के अधिकारियों से मिली सूचना के अनुसार लॉकडाउन के दौरान तेलांगाना के लिंगमपाली में फंसी ओडिशा की एक 19 वर्षीय प्रवासी महिला बोलांगीर की ओर जा रही श्रमिक स्पेशल में यात्रा कर रही थी. टिटलागढ़ के आसपास उसे प्रसव पीड़ा हुई और उसने ट्रेन में ही एक बच्चे को जन्म दिया. इस महिला का नाम मीना कुम्हार है जो कि बोलांगीर जिले थोडीबहाल गांव में रहती है.

डाक्टरों ने की जांच

रेल अधिकारियों के मुताबिक टिटलागढ़ में ही डॉक्टरों ने जच्चा-बच्चा की जांच और दोनों स्वस्थ पाया गया. डॉक्टरों के सलाह पर महिला और उसके बच्चे को टिटलागढ़ के सरकारी अस्पताल में भेज दिया गया.  में यह तीसरा वाकया है, जबकि श्रमिक स्पेशल में किसी महिला ने बच्चे को जन्म दिया हो.

पीयूष गोयल ने किया था ट्वीट

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कुछ दिन पहले ही श्रमिक स्पेशल ट्रेन में 36वें बच्चे के पैदा होने पर खुशी जताई थी. एक ट्वीट में उन्होंने कहा था कि श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 36 बच्चों ने जन्म लिया है. ये बच्चे इस बात के गवाह हैं कि श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के जरिए बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरों की वापसी कराई गई. यह हमारे सफलता की कहानी है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।