पलपल संवाददाता, जबलपुर. मध्यप्रदेश के जबलपुर में कोरोना पाजिटिव मामलों की संख्या 200 के आंकड़े से कुछ ही दूरी पर है, आज गुरुवार को तीन  पाजिटिव मामले सामने आने के बाद कुल पाजिटिव मामलों की संख्या 193 हो गई है, जिसमें 9 की मौत हो चुकी है तो 115 स्वस्थ होकर घरों को जा चुके है. 

बताया जाता है कि जबलपुर में लॉक डाउन का चौथा चरण शुरु हो गया है, जिसके चलते पहले से कुछ ज्यादा छूट हो गई है, किराना व सब्जी के अलावा अन्य दुकानों को भी खोलने की अनुमति दे दी गई है, जिसके चलते अब और भी ज्यादा सतर्क रहने की जरुरत है, हालांकि जिला प्रशासन ने जो व्यवस्था की है, उससे महामारी के फैलने का खतरा तो न के बराबर ही है, फिर भी लोगों को स्वयं ही सजग रहकर काम करना होगा. क्योंकि अभी तक कोरोना पाजिटिव के मामले 192 ही है, जो भोपाल, इंदौर, उज्जैन, बुरहानपुर सहित अन्य रेड जोन के जिलों की तुलना में न के बराबर ही है.

आज गुरुवार को आईसीएमआर से आई 28 सेम्पल की जांच रिपोर्ट में दो ही मामले कोरोना पाजिटिव के आए है, जिसमें एक महिला उम्र 28 वर्ष निवासी रद्दी चौकी, पुरुष उम्र 42 वर्ष निवासी मिलौनीगंज व नाबालिग उम्र 16 वर्ष निवासी बेलबाग टोरिया का है, नाबालिगा के परिवार का एक सदस्य पहले ही कोरोना पाजिटिव निकला रहा.

गौरतलब है कि जबलपुर में यदि कोरोना पाजिटिव मामलों की संख्या 193 हो गई तो दूसरी ओर 115 स्वस्थ होकर अपने घरों को पहुंच गए है, वहीं 9 की मौत हो चुकी है. संक्रमण के न फैलने का एक बड़ा कारण है कि लोग लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे है, शहर क ई हिस्सों में लोग अधिकतर समय घरों के अंदर ही रह रहे है, बाहर निकलने पर मास्क से लेकर सेनेटाइजर का उपयोग कर रहे है. 

एक को स्वस्थ होने पर किया डिस्चार्ज-

अधिकारिक सूत्रों के अनुसार आज गुरुवार को सुखसागर कोविड केयर में भरती मोहम्मद सलीम को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया है, चूंकि उनके घर में सुविधा न होने के कारण अगले सात दिनों के लिए सुखसागर में क्वारेंटीन रखा जाएगा.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।