नई दिल्ली. विश्व में छाये कोरोना संकट और अमेरिका एवं चीन के बीच बढ़ते तनाव के चलते अर्थव्यव्था में काफी उथल-पुथल मची हुई है. शेयर मार्केट में जारी उठापटक को देखते हुये निवेशकों ने सोने में सेफ  इन्वेस्टमेंट खरीदारी शुरू कर दी है. 

जिसके चलते सोने की कीमतों में तेजी का दौर जारी है. सोमवार को सोने में आयी रिकॉर्ड तेजी के बाद मंगलवार को सोने की कीमतों में गिरावट आई है. रिपोर्ट्स के अनुसार एमसीएक्स में सोने की कीमतें 1000 रुपये प्रति तोला गिरकर 46 हजार रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गई है. मंगलवार को एमसीएक्स में सोने की कीमतें गिरकर 47,980 रुपये प्रति दस ग्राम से गिरकर 46,853 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गई है.

विशेषज्ञों का कहना हैं कि कोरोना के कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी की चपेट में है. वहीं अमेरिका और चीन के बीच फिर व्यापारिक तनाव बढ़ता जा रहा है. इसीलिए निवेशकों ने फिर से सेफ  इन्वेस्टमेंट के तौर पर सोने की खरीदारी शुरू की है.

मार्केट के विशेषज्ञों का कहना है कि सोने में तेजी बरकरार रह सकती है. यह जल्दी ही 50,000 रुपये पर जा सकता है. वल्र्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट के अनुसार देश में करीब 22-25 हजार टन सोना घरों में पड़ा है, जिसका वर्तमान में आर्थिक रूप से कोई इस्तेमाल नहीं हो रहा है. ग्रामीण भारत में इसका करीब 65 प्रतिशत हिस्सा है. वहीं ज्वेलर्स का कहना है कि लॉकडाउन-4 में ढील दी गई है. आने वाले दिनों में ज्वैलर्स उसी गाइडलाइंस को फॉलो कर अपनी दुकान खोलेंगे.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।