- प्रदीप कुमार द्विवेदी  

* हर महीने की त्रयोदशी तिथि के दिन भोलेनाथ का शुभ आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए प्रदोष व्रत रखते हैं. 

* जब मंगलवार को त्रयोदशी होती है तो यह भौम प्रदोष कहलाता है. 

* भौम प्रदोष पर प्रदोषकाल में भोलेनाथ की पूजा-अर्चना करके मंगलदोष मुक्ति की प्रार्थना करने से मंगलदोष से राहत मिलती है.

* भौम प्रदोष व्रत में भगवान शिव का पूजन करने वाले श्रद्धालुओं को आर्थिक तनाव, ऋण, रोग और शत्रुओं से मुक्ति मिलती है.

* धर्मग्रथों के अनुसार भौम प्रदोष व्रत को रखने से गोदान के तुल्य शुभफल प्राप्त होता है और शिवकृपा से उत्तम लोक की प्राप्ति होती है. 

* यदि ऋणग्रस्त हों तो... ओम ऋणमुक्तेश्वर महादेवाय नम:... का जाप करें, ऋण के तनाव से राहत मिलेगी!

- आज का राशिफल -  

मेष राशि: आपका अद्वितीय दृष्टिकोण, आत्मविश्वास और कड़ी मेहनत आपको जीवन के हर क्षेत्र में सफलता दिलाएंगे. इस समय आपके आसपास एक शक्तिशाली और रचनात्मक दिव्य शक्ति है जो आपके आत्मविश्वास को बढ़ाती है. मानसिक रूप से आप अभी शीर्ष पर हैं.

वृष राशि: आप अपने विचारों पर गर्व करेंगे और उन्हें दूसरों के साथ शेयर करने में आपको आसानी होगी. आपकी सोच सामान्य से अधिक रचनात्मक है. इस समय आप ऐसे खेलों में दिलचस्पी रखेंगे जिसमे दिमाग का प्रयोग होता है. आपके दोस्त और आपका जीवनसाथी भी आपकी सराहना करेंगे.

मिथुन राशि: आपके लिए कुछ ऐसे लोगों जैसे एजेंटों या ब्रोकर्स को ढूँढना बेहद ज़रूरी है जो आपके नए विचारों को वास्तविकता में परिवर्तित करने में आपकी मदद कर सकते हैं. किसी भी पहल या प्रोजेक्ट के लिए यह आदर्श पल हैं, जो आपको रचनात्मकता को प्रदर्शित करते हैं.

कर्क राशि: आपको अपने मूल्यों और अपनी शक्तियों व सीमाओं का आकलन करने में मदद मिलेगी. आपने अपने जीवन में बढ़िया मार्ग चुना है जो आपको सराहना और अलग पहचान दिलाएगा. सही और सकारात्मक लोगों से बातचीत से सहायता मिल सकती है. अब आपको असाधारण अवसरों की आवश्यकता नहीं है.

सिंह राशि: आध्यात्मिकता या मार्गदर्शन के लिए सपनों में मिली नजर के बारे में विचार करें. घर में बिताया अच्छा समय नयी ऊर्जा महसूस कराएगा. माता-पिता या दादा को सहायता की आवश्यकता होगी या उनसे सहायता मिल सकती है. धार्मिक संघर्ष, घर पर या माता-पिता के साथ वार्तालाप में एक मुद्दा हो सकता है.

कन्या राशि: आपकी एकाग्रता और विवेक आपका साथ देंगे. इस चरण में आपका दिमाग व्यक्तिगत मामलों, परिवार और प्रियजनों के चारों ओर घूम रहा है, इसी कारण आप अभी अतीत या परिवार के मामलों के बारे में चर्चा करने में दिलचस्पी रखेंगे.

तुला राशि: आज अपने पुराने दोस्तों के साथ समय बिताएंगे. निडर हो कर अपनी बात कहें और समझाएं. लोगों को बताएं कि आप कैसा महसूस कर रहे हैं ताकि लोग आपको समझ सकें. जितना हो सके, लोगों से जुड़ें और बातचीत करें. परिवार और पालतू जानवरों की कंपनी में आराम करें.

वृश्चिक राशि: कड़ी मेहनत करना जारी रखें और दुश्मनों की बातों को नजरअंदाज करें. आपके नेतृत्व कौशल सबका ध्यान आकर्षित कर रहे हैं और आपको पुरस्कार प्रदान करेंगे. आज आपकी भावनाएं बेहद प्रभावी रहेंगी. उत्साह और अवसाद को मन में न आने दें.

धनु राशि: ध्यान, प्रकृति में समय बिताना आपको नए आध्यात्मिक विश्वासों से जुड़ने में मदद करेंगे. आप अपने घर या रिश्तेदारों के घर की मरम्मत में मदद कर सकते हैं. इस समय आप बेहद संवेदनशील और भावुक महसूस कर रहे हैं. अपने रोजाना कामों से ऊब सकते है इसलिए विश्राम के लिए आज का दिन उपयुक्त है.

मकर राशि: इस अवधि में आपको अपनी बढ़ी हुई एकाग्रता का लाभ उठा सकते हैं. आप अधिक समय सोचने में व्यतीत करते हैं, इसलिए आप अभी निजी मुद्दों जैसे परिवार और प्रियजनों के बारे में सोचें. अगर बाहर जाना ज़रूरी न हो तो घर पर ही रहें.

कुम्भ राशि: श्रम और कर्तव्य पालन आपके दो अद्वितीय गुण हैं. विवादों से दूर रहना आपकी ताकत को कम नहीं करेगा बल्कि बढ़ाएगा. अभी आप समाजिक मूड में हैं और हालिया सफलता का जश्न मनाने के लिए तैयार है. आपके लिए आज का दिन भावनात्मक रूप से संतोषजनक होगा.

मीन राशि: नेटवर्किंग के लिए यह समय शुभ है. बातचीत और आत्म अभिव्यक्ति स्वाभाविक रूप से आपका साथ देंगी, जिससे आप अपने आकर्षण और करिश्मे से किसी का भी दिल जीत सकते हैं. ऐसा धन जिसका आपको इंतज़ार है, इस समय मिलेगा, जिससे आर्थिक बोझ कम होगा.

* आचार्य पं. श्रीकान्त पटैरिया (ज्योतिष विशेषज्ञ)  वाट्सएप नम्बर 9131366453 

* यहां राशिफल चन्द्र के गोचर पर आधारित है, व्यक्तिगत जन्म के ग्रह और अन्य ग्रहों के गोचर के कारण शुभाशुभ परिणामों में कमी-वृद्धि संभव है, इसलिए अच्छे समय का सद्उपयोग करें और खराब समय में सतर्क रहें.

- मंगलवार का चौघडिय़ा -

दिन का चौघडिय़ा        रात्रि का चौघडिय़ा

पहला- रोग                पहला- काल

दूसरा- उद्वेग               दूसरा- लाभ

तीसरा- चर                तीसरा- उद्वेग

चौथा- लाभ                 चौथा- शुभ

पांचवां- अमृत               पांचवां- अमृत

छठा- काल                   छठा- चर

सातवां- शुभ                  सातवां- रोग

आठवां- रोग                  आठवां- काल

* चौघडिय़ा का उपयोग कोई नया कार्य शुरू करने के लिए शुभ समय देखने के लिए किया जाता है.

* दिन का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्योदय से सूर्यास्त के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* रात का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्यास्त से अगले दिन सूर्योदय के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* अमृत, शुभ, लाभ और चर, इन चार चौघडिय़ाओं को अच्छा माना जाता है और शेष तीन चौघडिय़ाओं- रोग, काल और उद्वेग, को उपयुक्त नहीं माना जाता है.

* यहां दी जा रही जानकारियां संदर्भ हेतु हैं, स्थानीय पंरपराओं और धर्मगुरु-ज्योतिर्विद् के निर्देशानुसार इनका उपयोग कर सकते हैं.

* अपने ज्ञान के प्रदर्शन एवं दूसरे के ज्ञान की परीक्षा में समय व्यर्थ न गंवाएं क्योंकि ज्ञान अनंत है और जीवन का अंत है! 

पंचांग

मंगलवार, 19 मई, 2020

प्रदोष व्रत

शक सम्वत 1942  शार्वरी

विक्रम सम्वत 2077

काली सम्वत 5122

दिन काल 13:39:37

मास ज्येष्ठ

तिथि द्वादशी - 17:33:50 तक

नक्षत्र रेवती - 19:54:19 तक

करण तैतिल - 17:33:50 तक

पक्ष कृष्ण

योग आयुष्मान - 29:20:09 तक

सूर्योदय 05:27:55

सूर्यास्त 19:07:32

चन्द्र राशि मीन - 19:54:19 तक

चन्द्रोदय 28:04:59

चन्द्रास्त 16:08:59

ऋतु ग्रीष्म

दिशा शूल: उत्तर में

राहु काल वास: पश्चिम में

नक्षत्र शूल: कोई नहीं

चन्द्र वास: उत्तर में 19:54 तक,पूर्व में 19:54 से  

*कर्पूरगौरं, करुणावतारं...

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।