मुंबई. ऑनलाइन टैक्सी सेवा प्रदाता कंपनी उबर ने अपने कार्यबल से 3500 लोगों को हटाने का फैसला किया है. कर्मचारियों को इसकी जानकारी एक वीडियो कॉल से दी गई. तीन मिनट से कुछ ऊपर चली इस कॉल में कंपनी के फीनिक्स सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का नेतृत्व करने वाले रफिन शेवलॉ ने यह बात कही. डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक शेवलॉ ने स्टाफ से कहा, 'व्यापार में अभी बहुत मंदी है और कंपनी के पास कई कर्मचारियों के लिए कोई काम नहीं है. हम 3500 फ्रंटलाइन कर्मचारियों को निकाल रहे हैं.

आपका काम प्रभावित हुआ है और आज आपका उबर के साथ काम करने का अंतिम दिन है.' उबर को चालू कैलेंडर वर्ष की पहली तिमाही यानी जनवरी से मार्च में 2.9 अरब डॉलर का घाटा हुआ है. दरअसल कोरोना वायरस महामारी की वजह से विदेशी बाजारों में कंपनी के निवेश पर काफी बुरा असर पड़ा है. अपनी बैलेंस शीट में सुधार के लिए कंपनी कॉस्ट कटिंग कर रही है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।