- प्रदीप कुमार द्विवेदी  

* प्रात:काल उठ कर हथेलियों के दर्शन करने के लिए कहा जाता है और जो दर्शन-प्रार्थना है उसमें स्पष्ट किया गया है कि हथेली के आगे के भाग अंगुलियों में देवी लक्ष्मी का निवास मान कर दर्शन करें, हथेली के मध्य में देवी सरस्वती का निवास मान कर दर्शन करें और हथेली के आधार में पालन करने वाले अपने ईष्ट देव... श्रीगणेश, गोविंद, ब्रह्मा... के दर्शन करें!

* यह तो इस दर्शन-प्रार्थना का अर्थ है लेकिन इसका भावार्थ है सफल मानव जीवन के लिए सबसे पहले कर्म करें जो हमारी अंगुलियां करती हैं और जिससे धन प्राप्त होता है, उसके बाद ज्ञान प्राप्त करें जो हमें सद्बुद्धि प्रदान करता है कि इस धन का कैसे उपयोग करना है तथा इसके बाद जगत का पालन करनेवाले गोविंद, ब्रह्मा, श्रीगणेश आदि देव हमें धन और ज्ञान के संयुक्त उपयोग से जीवन को श्रेष्ठ बनाने का मार्ग दिखाते हैं.

* प्रात:काल हथेली के दर्शन करके प्रार्थना करने की सार्थकता तभी है, प्राण प्रतिष्ठा तभी होगी जब इसका प्रायोगिक सद्उपयोग हो, अन्यथा यह प्रार्थना मात्र औपचारिकता रह जाएगी!

- आज का राशिफल -

मेष राशि: प्रॉपर्टी से जुड़े रुके हुए काम आज पूरे हो सकते हैं. खुद के लिए आज समय निकाल सकेंगे. प्रेमियों के लिए आज दिन अच्छा है.गैर कानूनी और गलत कामों से दूर रहें. किसी की भी मदद लेने से बचें. कर्जा न लें. सावधानी से सारे काम करने की कोशिश करें.

वृष राशि: बिजनेस के लिए भी दिन अच्छा है. ऑफिस में किसी उच्च पद वाले व्यक्ति से मदद मिल सकती है. परिवार का साथ मिलेगा. शांति से काम लें, व्यर्थ विवाद करने से बचें. पैतृक संपत्ति को लेकर विवाद हो सकता है. पिता से किसी बात पर अनबन हो सकती है.

मिथुन राशि: मनचाही जगह ट्रांसफर संभव है. कोई पुरानी समस्या आज हल हो सकती है. नौकरी से जुड़ा तनाव सुलझ सकता है. आप पर काम का बोझ बढ़ सकता है. स्टूडेंट्स को मानसिक तनाव रहेगा. दूसरों के मामलों में फालतू दखल देने से बचें.

कर्क राशि: बिजनेस और नौकरीपेशा के लिए दिन सामान्य है. घर का माहौल खुशनुमा रहेगा. परिवार में कोई मांगलिक कार्यक्रम हो सकता है. स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा. न चाहते हुए भी किसी का दिल दुखा सकते हैं. किसी से बहस न करें.  

सिंह राशि: स्टूडेंट्‌स के लिए दिन अच्छा है.  संतान की उन्नति से खुशी होगी. बिजनेस से जुड़ी नई योजनाएं बन सकती हैं. ऑफिस या फील्ड में किसी से विवाद हो सकता है. नई योजनाओं पर सावधानी से काम करें. आज आप अपनी वाणी पर संयम रखें.

कन्या राशि: कोई नया काम करने के लिए दिन अच्छा है. प्रेम संबंधों में सफलता के योग बन रहे हैं. जीवनसाथी की मदद भी मिल सकती है. कोई भी फैसला सोच-समझकर लें. कुछ मामलों में आपकी परेशानी बढ़ सकती है. फालतू कामों में समय और पैसा लग सकता है.

तुला राशि: दिन अच्छा गुजरेगा. स्टूडेंट्स को मेहनत का फल मिलेगा. नई नौकरी के ऑफर मिलने के योग भी बन रहे हैं. खुद भी कोई बड़ा फैसला न लें और न ही स्वीकार करें. आपका खर्चा बढ़ने की संभावना है. जोखिम भरे सौदे न करें.

वृश्चिक राशि: कामकाज में बेहतर बदलाव हो सकते हैं. नए संबंध आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं. सेहत मे मामूली उतार-चढ़ाव के योग बन रहे हैं. बिना मांगे किसी को सलाह न दें. किसी के भरोसे काम करने से भी बचें. पति-पत्नी में विवाद हो सकता है.

धनु राशि: कोई फायदेमंद काम शुरू कर सकते हैं. बिजनेस में रुका हुआ पैसा आज मिल सकता है. चोट-मोच लग सकती है. वाहन सावधानी से चलाएं. लोगों या अधिकारियों से डांट सुननी पड़ सकती है.

मकर राशि: नौकरीपेशा लोगों के लिए दिन सामान्य है. पारिवारिक संबंधों में सुधार होने के योग हैं. संतान पक्ष से कोई अच्छी खबर  मिल सकती है. कोई नया एग्रीमेंट न करें. बिजनेस में थोड़ी परेशानी हो सकती है. गले और नाक संबंधी समस्या भी हो सकती है.

कुम्भ राशि: संतान को सफलता मिलने से मन प्रसन्न रहेगा. जॉब और बिजनेस में फायदा होने को योग बन रहे हैं. कोई खुशखबरी आज मिल सकती है. छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा न करें. चोट और दुर्घटना की भी संभावना बन रही है. अनियमितता के कारण सेहत में गड़बड़ी हो सकती है.

मीन राशि: आज आपके फैसले सही साबित होंगे. भौतिक सुख सुविधाएं मिल सकती हैं. परिवार के साथ समय बिता पाएंगे. बिजनेस में कोई नया फैसला लेने से बचें. कोई राज की बात आज उजागर हो सकती है. अपनी वाणी पर कंट्रोल रखें तो बेहतर रहेगा.

* आचार्य पं. श्रीकान्त पटैरिया (ज्योतिष विशेषज्ञ) वाट्सएप नम्बर 9131366453   

* यहां राशिफल चन्द्र के गोचर पर आधारित है, व्यक्तिगत जन्म के ग्रह और अन्य ग्रहों के गोचर के कारण शुभाशुभ परिणामों में कमी-वृद्धि संभव है, इसलिए अच्छे समय का सद्उपयोग करें और खराब समय में सतर्क रहें.

- शुक्रवार का चौघडिय़ा -

दिन का चौघडिय़ा      रात्रि का चौघडिय़ा

पहला- चर              पहला- रोग

दूसरा- लाभ             दूसरा- काल

तीसरा- अमृत           तीसरा- लाभ

चौथा- काल             चौथा- उद्वेग

पांचवां- शुभ             पांचवां- शुभ

छठा- रोग               छठा- अमृत

सातवां- उद्वेग            सातवां- चर

आठवां- चर              आठवां- रोग

* चौघडिय़ा का उपयोग कोई नया कार्य शुरू करने के लिए शुभ समय देखने के लिए किया जाता है 

* दिन का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्योदय से सूर्यास्त के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* रात का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्यास्त से अगले दिन सूर्योदय के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* अमृत, शुभ, लाभ और चर, इन चार चौघडिय़ाओं को अच्छा माना जाता है और शेष तीन चौघडिय़ाओं- रोग, काल और उद्वेग, को उपयुक्त नहीं माना जाता है.

* यहां दी जा रही जानकारियां संदर्भ हेतु हैं, स्थानीय पंरपराओं और धर्मगुरु-ज्योतिर्विद् के निर्देशानुसार इनका उपयोग कर सकते हैं.

* अपने ज्ञान के प्रदर्शन एवं दूसरे के ज्ञान की परीक्षा में समय व्यर्थ न गंवाएं क्योंकि ज्ञान अनंत है और जीवन का अंत है!

पंचांग 

शुक्रवार, 15 मई, 2020

शक सम्वत 1942  शार्वरी

विक्रम सम्वत 2077

काली सम्वत 5122

दिन काल 13:35:06

मास ज्येष्ठ

तिथि अष्टमी - 08:23:53 तक

नक्षत्र धनिष्ठा - 08:29:55 तक

करण कौलव - 08:23:53 तक, तैतिल - 21:21:14 तक

पक्ष कृष्ण

योगएन्द्र - 25:46:48 तक

सूर्योदय 05:30:03

सूर्यास्त 19:05:09

चन्द्र राशि कुम्भ

चन्द्रोदय 26:03:59

चन्द्रास्त 12:39:00

ऋतु ग्रीष्म

दिशा शूल: पश्चिम में

राहु काल वास: दक्षिण-पूर्व में

नक्षत्र शूल: कोई नहीं

चन्द्र वास: पश्चिम में

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।