कोरोना की नाम राशि मिथुन है, जैसा की इस वायरस का नाम पड़ा है,i इस राशि मे राहू अपनी उच्च राशि मे होता है,वर्तमान मे राहु देवता जो की दैत्य सेनापति और सूर्य तथा चंद्र को ग्रहण लगाते है,2019 से ही अपनी उच्च राशि मे है लेकिन जैसे ही अग्रेजी वर्ष परिवर्तन हुआ उन्हे अंक शास्त्र के हिसाब से बल मिल गया आइये कैसे देखते है. 

2019 से घातक 2020

2019 का कुल योग 3 था, इसीलिए राहु 2019 तक ज्यादा घातक नही हुआ, लेकिन जैसे ही 2020 आया अंको का कुल योग 4 हो गया जो की राहु महाराज का अंक है, राहु अपनी उच्च राशि और अपने ही नक्छात्र मे भ्रमण कर रहे थे, महामारी और वायरस का नाम भी मिथुन राशि से आ गया, कोरोना और kovid-19 बस फिर क्या था राहु महाराज को पूरे विश्व मे छाने का मौका मिल गया,अग्रेजी वर्ष के पहले से चौथे महीने तक इन्होंने जमकर तबाही मचाई. 

4 का तोड़ 7- 

राहु के द्वारा प्रदत्त विपत्ति का शमन केतु ही करता है, राहु बंधन तो केतु मुक्ति होता है, राहु जाल तो केतु कैची होता है, राहु महामारी तो केतु वेक्सिन् होता है. 

जुलाई माह की 7 तारीख से होगी कोरोना खात्मे की शुरुआत-

अंग्रेजी वर्ष 2020 का 7 माह जुलाई की 7,16,25 तारीख इस बीमारी के खात्मे  की फाइनल तारीख होगी, इन तारीखो तक या तो कोई कारगर वेक्सीन आ जायेगी या तो कोरोना का प्रभाव कमजोर पड़ना प्रारंभ हो जायेगा. 

करें ये उपाय-

राहु महाराज काल स्वरूप है, विश्व को नस्ट करना इनके ही हाथ मे है,जब भी ये बलशाली होते है अपना कार्य विधिवत करते है,इनकी कृपा पाने के लिए लोगो को गणेश जी की पूजा और राहु महाराज की पूजा करनी चाहिए, राहु महाराज एक प्रकार के सर्प भी है यदि हम भगवान् शिव और सर्प देवता की स्तुति करे तो निश्चित रूप से हमे अकाल मृत्यु से बचाव होगा. 

*नाग स्त्रोत

-अनन्तं वासुकिं शेषं पद्मनाभं च कम्बलं

शन्खपालं ध्रूतराष्ट्रं च तक्षकं कालियं तथा

एतानि नव नामानि नागानाम च महात्मनं

सायमकाले पठेन्नीत्यं प्रातक्काले विशेषतः

तस्य विषभयं नास्ति सर्वत्र विजयी भवेत

ll इति श्री नवनागस्त्रोत्रं सम्पूर्णं ll

नाग गायत्री मंत्र-

ॐ नव कुलाय विध्महे विषदन्ताय धी माहि, 

तन्नो सर्प प्रचोदयात 

इनकी श्रद्धा पूर्वक स्तुति करने से किसी भी महामारी या अकाल मौत से जीव की रक्षा होती है. 

पंडित चंदशेखर नेमा हिमांशु

9893280184,7000460931

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।