11 मई के बाद से जिस तरह आकाश मंडल मे ग्रह गोचर बदल रहे है उससेे एक बात साफ हो गई है की मई का उत्तरार्ध काफी अच्छा जा सकता है, इसके पीछे ग्रहो के परिवर्तन इसका कारण बन सकते है, आइये देखते है मई मे कौन कौनसे ग्रह बदलेंगे.

*गुरु और शनि का वक्री होना*-11 मई को शनि और 14 मई से देव गुरु वृहस्पति वक्री होंगे, पहले ये दोनो इसी राशि मे मार्गी चल रहे थे,इस परिवर्तन से राज्य सरकारो की स्थिति मे सुधार होगा, आर्थिक गतिविधियां बढ़ेगी, कोरोना पर लगाम लगेगी.

*सूर्य का वृषभ राशि मे भ्रमण और गुरु की दृष्टि*-15 मई से सूर्य शुक्र और बुध गुरु की दृष्टि मे रहेंगे, जबसे कोरोना ने कहर मचाना शुरू किया है, तबसे पहली बार सूर्य,शुक्र और बुध गुरु की दृष्टि मे आये है, निश्चित रूप से सरकारो के प्रयासो को ईश्वरी मदद मिलेगी, महामारी नियंत्रण मे आयेगी, सरकार थोड़ा राहत महसूस करेंगी.

*20 मई से राहु का नक्छात्र परिवर्तन*-अक्टुबर से राहु आद्रा नक्छात्र मे था जो की 20 मई से मृगशिरा मे आ जायेगा, आद्रा का स्वामी खुद राहु होता है जो की वर्तमान मे अपनी उच्च राशि मे चल रहा है,इस समयावधि मे ही कोरोना ने अपने कमाल पूरे विश्व को दिखाये, अब नक्छात्र बदलने से निश्चित रूप से पूरे विश्व को राहत मिलने की संभावना है.

*उपरोक्त ग्रह गोचर के परिवर्तन से इस बात को बल मिलता है की मई का महिना मंगलदायक हो सकता है पूरे विश्व के लिए.

प.चंद्रशेखर नेमा हिमांशु

9893280184,7000460931

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।