नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की. कोरोना वायरस और आर्थिक गतिविधियों को लेकर हुई समीक्षा बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि गांवों को कोरोना संकट से दूर रखना होगा. उन्होंने लॉकडाउन के दौरान राज्यों द्वारा किये गये प्रयासों की सराहना भी की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की. कोरोना वायरस और आर्थिक गतिविधियों को लेकर हुई समीक्षा बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि गांवों को कोरोना संकट से दूर रखना होगा. पीएम मोदी ने कहा कि लॉकडाउन में ढील के बाद हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती गांवों को कोरोना से मुक्त रखने की होगी. हम सबको मिलकर इसे सुनिश्चित करना होगा.

समीक्षा बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ निर्मला सीतारमण, अमित शाह, राजनाथ सिंह और डॉक्टर हर्षवर्धन मौजूद थे. पीएम मोदी ने तमाम राज्यों के सीएम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रूबरू होते हुए कहा कि इस लड़ाई में सोशल डिस्टेंसिंग ही सबसे कारगर हथियार है. जहां भी हमने सामाजिक दूरी के नियमों का पालन नहीं किया, हमारी समस्याएं बढ़ गयीं.

इसके लिए हमें दो गज दूरी का महत्व बहुत बढ़ जाता है, इसलिए हमें इसे सुनिश्चित करना ही पड़ेगा. उन्होंने आगे कहा कि आज पूरी दुनिया कोरोना संकट से निपटने के लिए भारत के उठाए गए कदमों की तारीफ कर रहा है. इसमें सभी राज्यों के प्रयास महत्वपूर्ण हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि आगे के रास्ते और सामने आने वाली चुनौतियों को लेकर संतुलित रणनीति बनानी होगी और लागू करनी होगी. प्रधानमंत्री मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा, आज आप जो सुझाव देते हैं, उसके आधार पर हम देश की आगे की दिशा तय कर पाएंगे. उन्होंने आगे कहा कि देश के कई हिस्सों में धीरे-धीरे ही सही, लेकिन आर्थिक गतिविधियां जोर पकडऩे लगी हैं. आने वाले दिनों में यह प्रक्रिया और तेज होगी.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।