- प्रदीप कुमार द्विवेदी

* शनि की तीन स्थितियां है- कारक, अकारक और सम!

* जीवन में शनि अकारक है तो सहकर्मियों का सहयोग नहीं मिलता है, घर क्षतिग्रस्त हो जाता है, शुभ कार्य धीमी गति से होते हैं, शरीर के विविध अंगों के बाल झडऩे लगते हैं आदि.

* अकारक शनि होने पर शनि से संबंधित वस्तुओं... लोहा, काली उड़द, कोयला, तिल, जौ, काले वस्त्र, चमड़ा, काला सरसों आदि का यथाशक्ति दान करना चाहिए.

* शनिदेव, रामभक्त हनुमान के भक्तों को कभी परेशान नहीं करते हैं इसलिए शनि द्वारा प्रदत्त परेशानियों से राहत के लिए नियमितरूप से महावीर हनुमान की पूजा-अर्चना करें!

- आज का राशिफल -

मेष राशि: आज आपको पत्नी से सहयोग व समर्थन मिलेगा. व्यवसाय में उन्नति संभव है. कारोबार में कुछ नवीन योजनाएं बनेंगी. आपके द्वारा लिए गए निर्णय गलत साबित होंगे.

वृष राशि: समाजिक आयोजनों में आप की प्रशंसा होगी. व्यापार, व्यवसाय में लाभदायक सौदे आत्मबल बढ़ाएंगे. आज साहस, पराक्रम बढ़ेगा. धर्म ग्रंथों के पठन-पाठन में अभिरुचि बढ़ेगी.

मिथुन राशि: आप बहूत जल्दी दूसरों के विश्वास में आ जाते हैं, सतर्क रहें. विपरीत परिस्थितियों से दृढ़ता से सामना कर सकेंगे. व्यापार में परेशानियों का अंत होगा. प्रेम प्रसंग के योग हैं. उधार लिया पैसा कैसे चुकाएंगे इसी सोच में परेशान रहेंगे.

कर्क राशि: आप की दिनचर्या में आए बदलाव से निजी कार्य प्रभावित होंगे. परिवार में मांगलिक अवसर आएंगे. व्यवसाय में लाभ के योग बन रहे हैं. नौकरों पर नजर रखें.

सिंह राशि: आज रुका धन मिलने से धन संग्रह बढ़ेगा. आत्मविश्वास के बल-बूते पर आगे बढ़ेंगे. पारिवारिक सुख-संतोष बना रहेगा. मनोरंजन के कार्यो में रुचि बढ़ेगी. आज अपनी वस्तुएं संभालकर रखें.

कन्या राशि: अपने स्वास्थ्य के प्रति आप कितने लापरवाह हैं. किसी नए व्यापार में निवेश करने के योग हैं. आज विद्वानों के साथ रहने का अवसर मिलेगा. लाभदायक सौदे होंगे. प्रसिद्धि मिलेगी.

तुला राशि: अपने संबंधों के प्रति आप लापरवाही कर रहे हैं. व्यवसाय में विकास की योजनाएं बन सकती हैं. आर्थिक अनुकूलता रहने से सुख साधन बढ़ेंगे. निजी जीवन में भागदौड़ के बाद सफलता की संभावना है. आप के लिए शनी देव की आरधना लाभ दायक रहेगी.

वृश्चिक राशि: नौकरी में बदलाव चाहते हैं, पर फैसला लेने में अस्मन्जस्य की स्थित्ति रहेगी. साहित्य पठन में रुचि बढ़ेगी. संतान के भविष्य की चिंता रहेगी. कारोबार में सोच-समझकर लिए गए निर्णय शुभफल देंगे.

धनु राशि: समय का सदुपयोग करें. अपनी सांगत बदलें. दूसरों की उन्नती से दुखी न हो आप मेहनत करें और संकुचित मानसिकता बदलें. व्यापार में हर किसी पर विश्वास न करें. अपनों से प्रतिस्पर्धा से बचें. कानूनी विवाद पक्ष में हल होंगे.

मकर राशि: समय पर काम होने से मन अशांत रहेगा. कलात्मक कार्यों का प्रतिफल मिलेगा. व्यापारिक नवीन योजनाएं बनेंगी. निर्माण कार्य में सुधार होगा. जीवनसाथी की भावनाओं का अपमान करने से बचें. वैवाहिक जीवन में तनाव रहेगा.

कुम्भ राशि: आज खान-पान पर नियंत्रण जरूरी है. व्यर्थ के दिखावे से दूर रहें. मानसिक शांती की तलाश में रहेंगे. संतान के विवाह में विलंब से चिंता होगी. न्यायालयीन कार्य आज पूरे होंगे. व्यवसाय में कोशिशों के बावजूद मंदी रहेगी.

मीन राशि: काम की अधिकता रहेगी. नौकरी में मनचाहा स्थानांतरण व पदोन्नति के भी योग बन रहे हैं. आर्थिक निवेश सोच-समझकर कार्य करें. पारिवारिक कार्यों मे आप की पूछ परख बढ़ेगी.

* आचार्य पं. श्रीकान्त पटैरिया (ज्योतिष विशेषज्ञ) वाट्सएप नम्बर 9131366453 

*यहां राशिफल चन्द्र के गोचर पर आधारित है, व्यक्तिगत जन्म के ग्रह और अन्य ग्रहों के गोचर के कारण शुभाशुभ परिणामों में कमी-वृद्धि संभव है, इसलिए अच्छे समय का सद्उपयोग करें और खराब समय में सतर्क रहें.

 शनिवार का चौघडिय़ा 

दिन का चौघडिय़ा       रात्रि का चौघडिय़ा

पहला- काल              पहला- लाभ

दूसरा- शुभ              दूसरा- उद्वेग

तीसरा- रोग              तीसरा- शुभ

चौथा- उद्वेग             चौथा- अमृ

पांचवां- चर               पांचवां- चर

छठा- लाभ                छठा- रोग

सातवां- अमृत            सातवां- काल

आठवां- काल             आठवां- लाभ

* चौघडिय़ा का उपयोग कोई नया कार्य शुरू करने के लिए शुभ समय देखने के लिए किया जाता है 

* दिन का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्योदय से सूर्यास्त के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* रात का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्यास्त से अगले दिन सूर्योदय के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* अमृत, शुभ, लाभ और चर, इन चार चौघडिय़ाओं को अच्छा माना जाता है और शेष तीन चौघडिय़ाओं- रोग, काल और उद्वेग, को उपयुक्त नहीं माना जाता है.

* यहां दी जा रही जानकारियां संदर्भ हेतु हैं, स्थानीय पंरपराओं और धर्मगुरु-ज्योतिर्विद् के निर्देशानुसार इनका उपयोग कर सकते हैं.

* अपने ज्ञान के प्रदर्शन एवं दूसरे के ज्ञान की परीक्षा में समय व्यर्थ न गंवाएं क्योंकि ज्ञान अनंत है और जीवन का अंत है! 

पंचांग 

शनिवार, 9 मई, 2020

शक सम्वत 1942 शार्वरी

विक्रम सम्वत 2077

काली सम्वत 5122

दिन काल 13:27:39

मास ज्येष्ठ

तिथि द्वितीया - 10:17:13 तक

नक्षत्र अनुराधा - 06:34:00 तक, ज्येष्ठा - 29:03:13 तक

करण गर - 10:17:13 तक, वणिज - 21:06:42 तक

पक्ष कृष्ण

योगपरिघ - 09:33:44 तक

सूर्योदय 05:33:52

सूर्यास्त 19:01:30

चन्द्र राशि वृश्चिक - 29:03:13 तक

चन्द्रोदय 21:15:59

चन्द्रास्त 07:01:59

ऋतु ग्रीष्म

दिशा शूल: पूर्व में

राहु काल वास: पूर्व में

नक्षत्र शूल: पूर्व में 06:33 से 29:03 तक

चन्द्र वास: उत्तर में 29:03 तक, पूर्व में 29:03 से

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।