भारत में इंटरनेट यूजर्स तेजी से बढ़ रहे हैं और इंटरनेट मोबाइल असोसिएशन ऑफ इंडिया (IAMAI) की ओर से शेयर किया गया डेटा चौंकाने वाला है. सामने आई रिपोर्ट में कहा गया है कि करीब 7.1 करोड़ यूजर्स की उम्र 5 से 11 साल है और ये बच्चे अपने फैमिली मेंबर्स के डिवाइस पर इंटरनेट ऐक्सेस कर रहे हैं. इसके अलावा भारत में कुल इंटरनेट यूजर्स 50 करोड़ से भी ज्यादा हो चुके हैं.

IAMAI की ‘डिजिटल इन इंडिया’ रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में पिछले साल नवंबर के आखिर तक 50,40,000 ऐक्टिव इंटरनेट यूजर्स थे. ये ऐसे यूजर्स हैं, जिन्होंने महीने में एक बार वेब का इस्तेमाल जरूर किया. रिपोर्ट के मुताबिक, ‘इंटरनेट पॉप्युलेशन की बात करें तो करीब 43 करोड़ की उम्र 12 साल या इससे ज्यादा है और 7.1 करोड़ यूजर्स 5 से 11 साल की उम्र के बच्चे हैं, जो अपने घर में मौजूद डिवाइस पर इंटरनेट ऐक्सेस करते हैं.’

शहरी क्षेत्र में ज्यादा यूजर सामने आए IRS डेटा को Nielsen की ओर से तैयार किया गया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐक्टिव इंटरनेट पॉप्युलेशन में 70 प्रतिशत ऐसे हैं, जो रोज इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं. वहीं, 10 में से 9 ऐसे शहरी यूजर्स हैं, जो सप्ताह में कम से कम एक बार इंटरनेट ऐक्सेस कर रहे हैं. ग्रामीण भारत में करीब 3 करोड़ ऐक्टिव इंटरनेट यूजर्स मार्च, 2019 के बाद से बढ़े हैं. हालांकि, डेटा का इस्तेमाल शहरी क्षेत्र में ज्यादा है. छुट्टी के दिन ज्यादा यूज खास बात यह है कि हर तीन में से एक यूजर नॉर्मल दिनों के मुकाबले छुट्टी के दिन एक घंटे से ज्यादा डेटा इस्तेमाल करता है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि करीब 2.6 करोड़ महिला यूजर्स नवंबर, 2019 में जुड़ी हैं. जो नए पुरुष यूजर्स के मुकाबले ज्यादा है. मेल यूजर्स जहां 9 प्रतिशत बढ़े, वहीं फीमेल यूजर्स 21 प्रतिशत बढ़ी हैं. हालांकि, सभी यूजर्स के लिए इंटरनेट ऐक्सेस करने का प्राइमरी मीडियम मोबाइल फोन्स ही बने हुए हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।