- प्रदीप कुमार द्विवेदी  
* इस वक्त लाॅकडाउन चल रहा है, ऐसे में यह वास्तु दोष निवारण का बेहतर अवसर है.

* अपने भवन का वास्तु देखें और पूजा-प्रयोग से वास्तु दोष का निवारण करें.

* भवन के वास्तु में दिशा ज्ञान अत्यधिक महत्वपूर्ण है.

* सही दिशा ज्ञान के अनुरूप ही किसी भी भवन का निर्माण हो सकता है तथा वास्तु दोष भी समाप्त किए जा सकते हैं.

* आमतौर पर दिशा ज्ञान के लिए मैगनेटिक कम्पास... दिशासूचक यंत्र का उपयोग किया जाता है लेकिन बगैर यंत्र के भी दिशाओं का ज्ञान आसान है.

* सूर्योदय के समय सूर्य की तरफ मुंह करके खड़े होने पर... सामने पूर्व दिशा, दांए हाथ की ओर दक्षिण दिशा, पीठ की ओर पश्चिम दिशा और बांए हाथ की ओर उत्तर दिशा होती है.

* मैगनेटिक कम्पास का प्रयोग प्राचीनकाल से समुद्री यात्रा के दौरान नौका या जहाज में दिशा ज्ञान के लिए किया जाता रहा है- यह दिशा जानने का सबसे सरल और सही उपाय है-

* प्रमुख चारों दिशाओं के अलावा दिशाओं के मध्य की चार दिशाएं इस प्रकार हैं...
उत्तर और पूर्व के बीच- ईशान, पूर्व और दक्षिण के बीच- आग्नेय, दक्षिण और पश्चिम के बीच- नैऋत्य पश्चिम और उत्तर के बीच- वायव्य.

* प्रयास करें कि घर का वास्तु उत्तम हो लेकिन शत-प्रतिशत वास्तु दोष मुक्त भवन आज के युग में असंभव है क्योंकि हमारे जीवन में अनेक ऐसी वस्तुओं का प्रवेश हो चुका है जिन्हें भवन से हटाना संभव नहीं है.

* वास्तु दोष मुक्ति के लिए सुंदर कांड का आयोजन सर्वोत्तम उपाय है!  

- आज का राशिफल - 

मेष राशि: हितशत्रुओं के प्रति सावधान रहें. वाणी पर संयम रखें. परिवार एवं स्नेहियों के साथ उग्र विवाद के कारण दुख हो सकता है. विश्वासघात मिल सकता है. नया काम करने से बचें. गुस्सा पर काबू रखें. धन हानि के योग हैं.

वृष राशि: कारोबार के लिए आज का दिन शुभ साबित होगा. घर की साज-सज्जा में फेरबदली करेंगे. दिन के कार्यभार से कुछ थकान का अनुभव होगा, परंतु स्वास्थ्य अच्छा रहेगा. गृहस्थजीवन आनंदपूर्ण बीतेगा.

मिथुन राशि: मानसिक तनाव बढ़ सकता है. मानसिक तनाव अधिक होने से सेहत भी खराब हो सकती है. कारोबार में नुकसान से मन में घबराहट रहेगी. आज आपको अपने गुस्से पर काबू रखना होगा. कोर्ट कचहरी के मामलों में सावधानी बरतें. मित्रों से मुलाकात कर घूमने का प्लान बनाएंगे.

कर्क राशि: धन जरूरी वस्तुओं पर ही खर्च होगा. आपका शारीरिक एवं मानसिक आरोग्य अच्छा रहेगा. प्रतिस्पर्धियों तथा शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी. बीमार व्यक्तियों के स्वास्थ्य में सुधार आएगा. धन लाभ होगा और अधूरे कार्य संपन्न होंगे. दफ्तर में सहकर्मियों से अच्छा सहकार मिलेगा. स्त्री मित्रों से मुलाकात होगी.

सिंह राशि: यात्रा-प्रवास करने से बचें. बौद्धिक चर्चाओं से दूर रहने की कोशिश करें. संतानों के आरोग्य एवं अभ्यास सम्बंधित चिंता से मन व्याकुल होगा. आज साहित्य एवं कला में आपकी रुचि रहेगी. मित्रों से भेंट हो सकती है.

कन्या राशि: आज का दिन अच्छा होगा. तन व मन की तंदुरस्ती अच्छी है. आज आपको मान-सम्मान मिल सकता है. आर्थिक रूप से दिन अच्छा होगा. धन लाभ के संयोग है. मित्रों के साथ खान-पान हो सकता है.

तुला राशि: घर के आसपास कहीं घूमने का कार्यक्रम बन सकता है. मित्रों और स्वजनों से मुलाकात होगी. भाग्य की वृद्धि होगी. प्रतिस्पर्धियों पर विजय प्राप्त होगी. मानसिक रुप से आज आप बहुत हल्कापन महसूस करेंगे. वैवाहिक आनंद की अनुभूति होगी.

वृश्चिक राशि: आज की दिनचर्या असंयमित रहेगी. आज के दिन का पूर्वार्ध परिवार में कलह रहने के कारण अशान्त रहेगा इसका कारण आप ही रहेंगे. कार्य क्षेत्र पर बेहतर अनुभव नहीं करेंगे. धन लाभ के लिए आज परिश्रम करना पङेगा. 

धनु राशि: कार्य क्षेत्र पर आज अधिकारियो का प्रोत्साहन मिलने से उन्नति के मार्ग खुलेंगे. व्यवसाय में लाभ पाने के लिए थोड़ा परिश्रम करना पड़ सकता है लेकिन इसका फल आश्चर्य में डालने वाला रहेगा. 

मकर राशि: वाणी एवं व्यवहार संयमित रखें अन्यथा सम्मान में कमी आ सकती है. सरकारी कार्यो को संभवतः टाले निर्णय आपके विपरीत रहेंगे. धन लाभ की संभावनाएं आज कम ही है परन्तु जब भी होगा आकस्मिक ही होगा.

कुम्भ राशि:  खर्च पर नियंत्रण नहीं रहने से आर्थिक समस्या बन सकती है. परिजनों का सहयोग बराबर मिलते रहने से मानसिक रूप से शान्ति रहेगी. महिलाओ की सेहत आज नरम रहने से घरेलू कार्य बिखरे रहेंगे ठंडे पदार्थो का सेव ना करें. मित्रो का भी साथ मिलेगा. 

मीन राशि: कार्य क्षेत्र पर आज दुसरो के ऊपर निर्भर रहना पड़ सकता है. अधिक भाग दौड़ रहने के कारण थकान एवं स्वाभाव में रूखापन आने से प्रेम संबंध बिगड़ने की संभावना है. जोखिम वाले कार्यो से दूर रहें आज परिवार की महिलाओं की बात ना मानने से बाद में पछतावा होगा.

* आचार्य पं. श्रीकान्त पटैरिया (ज्योतिष विशेषज्ञ) वाट्सएप नम्बर 9131366453

* यहां राशिफल चन्द्र के गोचर पर आधारित है, व्यक्तिगत जन्म के ग्रह और अन्य ग्रहों के गोचर के कारण शुभाशुभ परिणामों में कमी-वृद्धि संभव है, इसलिए अच्छे समय का सद्उपयोग करें और खराब समय में सतर्क रहें.

- बुधवार का चौघडिय़ा -

दिन का चौघडिय़ा        रात्रि का चौघडिय़ा

पहला- लाभ              पहला- उद्वेग

दूसरा- अमृत               दूसरा- शुभ

तीसरा- काल              तीसरा- अमृत

चौथा- शुभ                 चौथा- चर

पांचवां- रोग                पांचवां- रोग

छठा- उद्वेग                छठा- काल

सातवां- चर                सातवां- लाभ

आठवां- लाभ               आठवां- उद्वेग

* दिन का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्योदय से सूर्यास्त के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* रात का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्यास्त से अगले दिन सूर्योदय के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* अमृत, शुभ, लाभ और चर, इन चार चौघडिय़ाओं को अच्छा माना जाता है और शेष तीन चौघडिय़ाओं- रोग, काल और उद्वेग, को उपयुक्त नहीं माना जाता है.

* यहां दी जा रही जानकारियां संदर्भ हेतु हैं, स्थानीय पंरपराओं और धर्मगुरु-ज्योतिर्विद् के निर्देशानुसार इनका उपयोग कर सकते हैं.

* अपने ज्ञान के प्रदर्शन एवं दूसरे के ज्ञान की परीक्षा में समय व्यर्थ न गंवाएं क्योंकि ज्ञान अनंत है और जीवन का अंत है! 

पंचांग

बुधवार, 6 मई, 2020

नृसिंह  जयन्ती

छिन्नमस्ता जयन्ती

शक सम्वत 1942 शार्वरी

विक्रम सम्वत 2077

काली सम्वत 5122

दिन काल 13:23:39

मास वैशाख

तिथि चतुर्दशी - 19:46:37 तक

नक्षत्र चित्रा - 13:52:13 तक

करण गर - 09:34:37 तक, वणिज - 19:46:37 तक

पक्ष शुक्ल

योग सिद्धि - 20:38:23 तक

सूर्योदय 05:36:01

सूर्यास्त 18:59:41

चन्द्र राशि तुला

चन्द्रोदय 17:51:00

चन्द्रास्त 29:30:59

ऋतु ग्रीष्म

दिशा शूल: उत्तर में

राहु काल वास: दक्षिण-पश्चिम में

नक्षत्र शूल: कोई नहीं

चन्द्र वास: पश्चिम में

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।