नई दिल्ली. भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के बीच संबंधों में तल्खी जगजाहिर है लेकिन गंभीर ने भारत के लिए अपनी ऑल टाइम इलेवन टेस्ट टीम में धोनी को जगह दी है और पूर्व लेग स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले को कप्तान चुना है.

आईपीएल में जब गंभीर कोलकाता नाईट राइडर्स के कप्तान थे और अपनी कप्तानी में उन्होंने कोलकाता को 2012 में पहली बार चैंपियन बनाया था तब उन्होंने कहा था कि वह मौका मिलने पर भारत की टेस्ट टीम की कप्तानी भी कर सकते हैं.

उसी समय से गंभीर और धोनी के रिश्तों में अनचाहा तनाव आ गया था. धोनी तब तीनों प्रारूप में भारत के कप्तान थे. गत दो अप्रैल को जब अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने विश्वकप 2011 के फाइनल में महेंद्र सिंह धोनी के ऐतिहासिक विजयी छक्के का जिक्र किया था तो गंभीर भड़क गए थे और उन्होंने कहा था कि यह विश्व कप पूरे टीम सहयोग से जीता गया था.

गंभीर ने तल्ख अंदाज में ट्वीट कर कहा था, ‘‘आपको याद दिला दूं कि 2011 विश्वकप का खिताब भारत, भारतीय टीम और सहायक स्टाफ ने मिलकर जीता था. वक्त आ गया है कि आप एक छक्के से अपना लगाव कम कर लें.’’ लेकिन अपनी आल टाइम टेस्ट टीम चुनते हुए गंभीर ने धोनी की जबरदस्त बल्लेबाजी और विकेटकीपिंग को ध्यान में रखा और उन्हें टीम में विकेटकीपर-बल्लेबाज के रूप में रखा.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।