- प्रदीप कुमार द्विवेदी  

कई श्रद्धालु सत्य और सिंद्धांत के मार्ग पर चलते हैं, लेकिन अक्सर उनके जीवन में अग्निपरीक्षा जैसे हालात बन जाते हैं. ऐसे समय में सत्य-सिद्धांत की जीत के लिए मोहिनी एकादशी का विशेष महत्व है! धर्मधारणा है कि इस व्रत को रखने से व्रती के समूचे जाने/अनजाने पाप नष्ट हो जाते हैं और उसे स्वर्ग की प्राप्ति होती है. धर्मग्रंथों के अनुसार गुरु वशिष्ठ के कहने पर भगवान श्रीराम ने और भगवान श्रीकृष्ण के कहने पर राजा युधिष्ठिर ने मोहिनी एकादशी का व्रत रखा था! इस अवसर पर प्रातःकाल पवित्र स्नानादि से निवृत्त होकर भगवान श्रीराम की प्रतिमा के सम्मुख बैठकर पूजा-अर्चना करनी चाहिए.

- आज का राशिफल -

मेष राशि: संतान से जुड़े मामले सहज ही निपटेंगे. प्रगतिवर्धक समाचार मिलेंगे. व्यावसायिक अनुकूलता रहेगी. आर्थिक मामलों में सुधार की संभावना है. संतान की ओर से सुखद स्थिति बनेगी.

वृष राशि: अपने व्यवहार को नम्र बनाएं. दूसरे की बातों भी सुनें. कटु वचनों का प्रयोग न करें. दुस्साहस नहीं करें, कानूनी काम होंगे. कार्ययोजना को गुप्त रखना आपके हित में रहेगा. जल्दबाजी में नहीं रहें.

मिथुन राशि: समाज में आप प्रभाव बढ़ेगा. प्रशासन से जुड़े लोग व्यस्त रहेंगे. शुभ कार्यों में संलग्न होने से सुयश एवं सम्मान मिलेगा. पराक्रम बढ़ेगा. नवीन उपलब्धियों के साथ अनायास लाभ के योग बनेंगे.

कर्क राशि: कार्य स्थल पर कर्मचारियों का सहयोग मिलेगा. नई साझेदारी लाभदायक रहेगी. आज विशेष लाभ होने की संभावना है. अनुकूल समाचार मिलेंगे. कार्यकुशलता, प्रयास, परिश्रम की सार्थकता रहेगी. निवेश लाभदायी रह सकेगा.

सिंह राशि: दिन की शुरुआत में आलस की अधिकता रहेगी. राज्यपक्ष में आपका प्रभाव बढ़ेगा. विरोधियों से सावधान रहें. दांपत्य सुख मिलेगा. समय का दुरुपयोग न करें. प्रयास में आलस्य नहीं करें.

कन्या राशि: अच्छा सोचें, सकारात्मक विचारों के कारण प्रगति के अवसर आएंगे. धन प्राप्ति के योग हैं. व्यापार अच्छा चलेगा. परिवार में तरक्की होगी.

तुला राशि: जो भी करें, समझे फिर करें. लोगों के बिच अपनी छवी सुधारें. अनसोचे कामों में हाथ नहीं डालें. पारिवारिक मामले अशांत रखेंगे. कार्यक्षेत्र में काम का बोझ अधिक रहेगा. आर्थिक तंगी चिंता में डालेगी.

वृश्चिक राशि: आप की मेहनत के अनुकूल सफलता मिलेगी. प्रतिस्पर्धा में यश, सफलता मिलेगी. संतान से मदद प्राप्त हो पाएगी. आर्थिक योजनाओं का क्रियान्वयन होने की संभावना है.

धनु राशि: समय मध्यम है. तनाव बढेगा. क्रोध पर नियंत्रण रखें. महत्व के कार्य, निर्णयों में सहयोग लेना होगा. मान-सम्मान बढ़ेगा, वाहन से चोट लग सकती है. व्यर्थ के विवादों से दूर रहें.

मकर राशि: आर्थिक लाभ होने से रुके कार्यों को गती मिलेगी योजनाएं फलीभूत होंगी. लेनदेन, कर्ज, खर्च की पूर्णता होगी. पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि से संतोष रहेगा. रिश्तेदारों से संबंधों में मर्यादा जरूरी है.

कुम्भ राशि: समय पर निर्णय लेने से कार्यो में सफलता तय है. व्यावसायिक संबंधों का लाभ मिलेगा. बुद्धि एवं तर्क से कार्य में सफलता के योग बनेंगे. रुका धन मिलेगा, धार्मिक रुचि बढ़ेगी.

मीन राशि: अपने निर्णय को सुरक्षित रखें. हर किसी को अपना प्रयोजन न बताय लक्ष्य को ध्यान में रखकर प्रयत्न करें, सफलता मिलेगी. नौकरी में पदोन्नति के योग हैं. परिवार में सहयोग का वातावरण रहेगा.  

*आचार्य पं. श्रीकान्त पटैरिया (ज्योतिष विशेषज्ञ) वाट्सएप नम्बर 9131366453 

* यहां राशिफल चन्द्र के गोचर पर आधारित है, व्यक्तिगत जन्म के ग्रह और अन्य ग्रहों के गोचर के कारण शुभाशुभ परिणामों में कमी-वृद्धि संभव है, इसलिए अच्छे समय का सद्उपयोग करें और खराब समय में सतर्क रहें.

 - रविवार का चौघडिय़ा -

दिन का चौघडिय़ा        रात्रि का चौघडिय़ा

पहला- उद्वेग              पहला- शुभ

दूसरा- चर                दूसरा- अमृत

तीसरा- लाभ               तीसरा- चर

चौथा- अमृत               चौथा- रोग

पांचवां- काल              पांचवां- काल

छठा- शुभ                  छठा- लाभ

सातवां- रोग               सातवां- उद्वेग

आठवां- उद्वेग              आठवां- शुभ

* चौघडिय़ा का उपयोग कोई नया कार्य शुरू करने के लिए शुभ समय देखने के लिए किया जाता है. 

* दिन का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्योदय से सूर्यास्त के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* रात का चौघडिय़ा- अपने शहर में सूर्यास्त से अगले दिन सूर्योदय के बीच के समय को बराबर आठ भागों में बांट लें और हर भाग का चौघडिय़ा देखें.

* अमृत, शुभ, लाभ और चर, इन चार चौघडिय़ाओं को अच्छा माना जाता है और शेष तीन चौघडिय़ाओं- रोग, काल और उद्वेग, को उपयुक्त नहीं माना जाता है.

* यहां दी जा रही जानकारियां संदर्भ हेतु हैं, स्थानीय पंरपराओं और धर्मगुरु-ज्योतिर्विद् के निर्देशानुसार इनका उपयोग कर सकते हैं.

* अपने ज्ञान के प्रदर्शन एवं दूसरे के ज्ञान की परीक्षा में समय व्यर्थ न गंवाएं क्योंकि ज्ञान अनंत है और जीवन का अंत है! 

पंचांग  

रविवार, 3 मई, 2020

महावीर स्वामी कैवल्य ज्ञान

मोहिनी एकादशी

त्रिशूर पूरम

शक सम्वत 1942 शार्वरी

विक्रम सम्वत 2077

काली सम्वत 5122

दिन काल 13:19:31

मास वैशाख

तिथि दशमी - 09:11:00 तक

नक्षत्र पूर्वा फाल्गुनी - 21:43:27 तक

करणगर - 09:11:00 तक, वणिज - 19:46:05 तक

पक्ष शुक्ल

योग घ्रुव - 12:08:44 तक

सूर्योदय 05:38:21

सूर्यास्त 18:57:52

चन्द्र राशि सिंह - 27:09:43 तक

चन्द्रोदय 14:30:00

चन्द्रास्त 27:33:00

ऋतु ग्रीष्म

दिशा शूल: पश्चिम में

राहु काल वास: उत्तर में

नक्षत्र शूल: उत्तर में 21:43 से

चन्द्र वास: पूर्व में 27:09 तक, दक्षिण में 27:09 से

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।