भोपाल. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते लागू लॉकडाउन के बीच प्रदेश में कृषि और आर्थिक गतिविधियां शुरू करने के प्रयास भी किये जा रहे हैं. इसी के तहत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश में अब यदि आप चाहें तो निजी कृषि उपज मंडी भी खोल सकते हैं. इसके लिए मध्य प्रदेश के मंडी एक्ट में संशोधन किया गया है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि व्यापारी एक ही लाइसेंस पर पूरे प्रदेश में खरीदी कर सकता है. मंडी शुल्क एक ही जगह पर जमा होगा. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोई चाहे तो निजी मंडी स्थापित कर किसान की उपज की खरीदी कर सकता है. किसानों को अब निजी मंडी और सरकारी मंडी के साथ ही ई-ट्रेडिंग के माध्यम से देश के किसी भी व्यापारी को अपनी उपज बेचने का विकल्प मिलेगा. इस प्रतिस्पर्धा के कारण हमारे किसान को अधिक मूल्य मिल सकेगा.

वहीं भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार के इस निर्णय से हमारे अन्नदाताओं को निश्चित रूप से लाभ मिलेगा. किसानों को उनकी उपज का जहां अधिक दाम भी मिलेगा वहीं फसल को बेचने में भी ज्यादा परेशानी का सामना नही करना पड़ेगा.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।