कोलकाता. भारत के महान फुबॉलर चुन्नी गोस्वामी का 82 साल की उम्र में दिल का दौरा पडऩे से निधन हो गया, उन्होंने कोलकाता के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली. चुन्नी गोस्वामी के आखिरी वक्त में उनकी पत्नी और बेटा सुदिप्तो अस्पताल में ही मौजूद रहे. 

गौरतलब है कि चुन्नी गोस्वामी गोस्वामी 1962 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम के कप्तान थे. चुन्नी गोस्वामी को क्रिकेट में भी महारत हासिल थी और उन्होंने बंगाल के लिए फस्र्ट क्लास क्रिकेट भी खेला था. गोस्वामी उन चुनिंदा खिलाडिय़ों में शामिल थे, जिन्होंने अपने राज्य के लिए फुटबॉल और क्रिकेट दोनों में प्रतिनिधित्व किया था. गोस्वामी 1962 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम के कप्तान थे. बंगाल के लिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट भी खेले थे. उनकी दोनों खेलों पर जबरदस्त पकड़ थी. 

उनके परिवार ने बताया कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा और अस्पताल में करीब पांच बजे उनका निधन हो गया. वह मधुमेह, प्रोस्ट्रेट और तंत्रिका तंत्र संबंधित बीमारियों से जूझ रहे थे. गोस्वामी ने भारत के लिए बतौर फुटबॉलर 1956 से 1964 तक 50 मैच खेले, वहीं क्रिकेटर के तौर पर उन्होंने 1962 और 1973 के बीच 46 प्रथम श्रेणी मैचों में बंगाल का प्रतिनिधित्व किया था.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।