नई दिल्ली. मई का महीने नजदीक ही आ रहा है और ऐसे में पूरे देश में गर्मी बढ़ रही है. गर्मी से निजात पाने के लिए लोगों के घरों में कूलर और एसी का शुरू होने लगे हैं. लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते एसी कितने तापमान पर चलाया जाए, इसको लेकर संशय बना हुआ है.  विशेषज्ञों का कहना है कि घर के एसी को कोरोना से कोई खतरा नहीं है.

हाँ बस सेंट्रल एसी को लेकर हमें कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत है, क्योंकि इसका इस्तेमाल एक साथ कई लोग करते हैं. केंद्रीय लोक निर्माण विभाग ने अपने बिल्डिंग में एसी के इस्तेमाल के लिए गाइडलाइन जारी की है. देश में एसी और फिज के क्वालिटि कंट्रोल पर नजर रखने वाली संस्था  ISHRAE ने एसी के उपयोग के लिए एक गाइडलाइन जारी की है. जिसमें कहा गया है कि एसी के तापमान को 24-30 डिग्री पर रखें. इस दौरान ह्यूमिडिटी की मात्रा 40-70 प्रतिशत के बीच होनी चाहिए. इसके अलावा इस दौरान पंखे का भी इस्तेमाल करें जिससे कि रूम में हवा की गति बनी रहे.

गाइडलाइन में ये भी कहा गया है कि जिस कमरे में एसी है वहां खिड़की भी होनी चाहिए, जिससे की बीच-बीच में ताजी हवा अंदर आती रहे. इसके अलावा एग्जॉस्ट फैन भी इस्तेमाल करने को कहा गया है, जिससे कि खराब और दूषित हवा बाहर की तरफ  जा सके. साथ ही ये भी कहा गया है कि अभी गर्मी की शुरुआत हो रही है. ऐसे में बेहतर ये होगा कि एसी को इस्तेमाल करने से पहले उसकी सर्विसिंग कर ली जाए.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।