स्वस्थ और सॉफ्ट कोमल होंठ आपकर खूबसरती को उभारते हैं. कोमल होंठ पाने के लिए ब्लूबेरी, चकोतरा जैसे फलों के सत्वों से युक्त लिप बाम लगाए. फटे होंठ पर नारियल तेल या जोजोबा ऑयल या ब्राउन शुगर लगाएं. 

ब्लूबेरी-  सुपरफूड जैसे ब्लूबेरी युक्त लिप बाम इस्तेमाल करें. ब्लूबेरी एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से समृद्ध होता है, जो समय से पहले उम्रदराज दिखने से बचाता है. 

चकोतरा और संतरा-  इनमें विटामिन ए, सी, मिनरल्स और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं. चकोतरा में मौजूद पोटेशियम हानिकारक पराबैंगनी किरणों से सुरक्षा प्रदान करता है. इसलिए चकोतरा और संतरा युक्त लिप बाम लगाएं, जिससे होंठों प्राकृतिक गुलाबी रंगत बरकरार रहेगी.

क्रैनबेरी या करौंदा-  इसमें विटामिन बी3, विटामिन बी5 और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो पर्यावरणीय कारकों के कारण होने वाले किसी भी नुकसान से बचाता है. 

होठों को करें स्क्रब-  होंठों से मृत त्वचा हटाने के लिए मल्टीपरपज ऑर्गेनिक बाम का एक पतला सा लेयर होंठ पर लगाएं और फिर मुलायम टूथब्रश से हल्के हाथों से स्क्रब करें, इसके लिए नए टूथब्रश का इस्तेमाल करें. 

नारियल तेल- फटे होंठ की मृत त्वचा हटाने के लिए नारियल तेल और शुगर का इस्तेमाल आसान उपाय है. थोड़े से ऑर्गेनिक नारियल तेल में जरा सा पिसा चीनी मिला लें और फिर इस मिश्रण को हल्के हाथों से होंठ पर मलें. स्क्रब के बाद पानी से धोकर होंठ पर लिप बाम लगा लें.

गुलाब जल और ग्लिसरीन- ये दोनों ही लाभकारी होते हैं. जहां गुलाब जल का इस्तेमाल आपके होंठों को हल्का गुलाबी रंगत देता है, वहीं ग्लिसरीन मृत त्वचा हटाकर होंठ को कोमल बनाता है. होंठ के कालेपन व रुखेपन से छुटकारा पाने के लिए दोनों को मिलाकर होंठ पर लगाएं.  

जोजोबा ऑयल- जोजोबा ऑयल से होंठ की त्वचा को पोषण प्रदान करता है और मुलायम बनाता है. इसमें ब्राउन शुगर मिलाकर होंठ पर हल्के हाथों से मलें. कम से कम तीन-चार मिनट मलें. 

ग्रीन टी ऑयल-  यह एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है, जो होंठों को चमकदार बनाता है. फटे होंठों के लिए यह एक प्रभावी उपचार है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।