आजकल लोगों का खान-पान व लाइफस्टाइल इतना बिगड़ गया है कि जो समस्या पहले 60-70 की उम्र में देखने को मिलती थी वो अब कम उम्र में भी हो रही है. इन्हीं में से एक है आंखों का कमजोर होना या कम उम्र में चश्मा लगना. बचपन में ही चश्मा लगने का एक कारण कहीं ना कहीं दिन ब दिन बिगड़ता लाइफस्टाइल है.

मोबाइल का अधिक यूज, गलत डाइट, घंटो तक एक ही काम पर लगे रहना, नींद पूरी न लेने, सारा दिन टीवी पर नजरे गड़ाएं रखना, आंखें खराब होने का मुख्य कारण है. वहीं कहीं ना कहीं इसका कारण पोषक तत्वों की कमी भी है.

ऐसे में आज हम आपके लिए कुछ छोटे-छोटे टिप्स लेकर आए हैं, जो ना सिर्फ आंखों की रोशनी बढ़ाएंगे बल्कि चश्मा उतारने में भी मदद करेंगे.

बादाम खाएं- आंखों के हर तरह के रोग जैसे पानी का गिरना, आंखे आना, आंखों की दुर्बलता आदि होने पर रात को 7-8 बादाम भिगोकर सुबह पीसकर पानी में मिलाकर पीएं.

मिश्री और सौंफ- 1 टीस्पून सौंफ, 2 बादाम, 1/2 टीस्पून मिश्री को पीस रात को सोने से पहले दूध के साथ लें. इसके अलावा जीरे और मिश्री को बराबर मात्रा में पीस लें 1 चम्मच घी के साथ खाएं.

सरसों का तेल- सोने से पहले पैरों के तलवों पर सरसों या जैतूल तेल से मालिश करें. कम से कम 40 दिन तक ऐसा करने से चश्मा उतर जाएगा. 

देसी घी- देसी घी से कान के पिछले हिस्से में रोजाना मसाज करें. इससे आंखों की रोशनी बढ़ेगी.

आंवला- आंवला के पानी से आंखों धोएं. साथ ही आंवले का मुरब्बा खाएं. डाइट में हरी सब्जियां, फल, नट्स आदि अधिक लें.

आंखों की मसाज- कैस्टर ऑयल, ठंडा दूध, गुलाबजल या कच्चे आलू के रस से रोजाना आंखों की मसाज करें.

अनुलोम-विलोम- सुबह घास पर 10-15 मिनट लंगे पैर चलें और अनुलोम-विलोम प्रणायाम करें. इसके अलावा बिना कुल्ला किए मुंह की लार आंखों में काजल की तरह लगाएं.

मछली का सेवन- मछली खाने या इसका सूप पीने से भी आंखों की रोशनी तेज होती है.

आंखों में रुखेपन का इलाज- आंखों में ड्राईनेस हो तो नारियल तेल या एलोवेरा जेल से आंखों की 15 मिनट मसाज करें और फिर पानी से धो लें.

आंखों के नीचे सूजन- ग्रीन या कैमोमाइल टी-बैग को पानी में उबालकर फ्रिज में ठंडा करें. अब इसे 10 मिनट आंखों पर रखें और फिर ठंडे पानी से धो लें. इससे सूजन दूर हो जाएगी.

आंखों का तनाव- आंखों का तनाव दूर करने के लिए उंगुली के पोर से आंखों के चारों तरफ धीरे-धीरे थपथपाएं. इसे आई टैपिंग कहते हैं. 

कुछ जरूरी बातें

दिन में 3-4 बार आंखों पर पानी के छिंटे मारे

कम्‍प्यूटर या लैपटॉप पर काम करते हैं तो एंटी-ग्लेयर लैंस चश्मा लगाएं.

रात को सोने से करीब 2 घंटे पहले मोबाइल का यूज ना करें.

कम्प्यूटर व मोबाइल का ज्यादा यूज ना करें.

दोनों हथेलियों से आंखों की मसाज करें. ऐसा दिन में 3-4 बार करें.

काम के दौरान आंखों को 5-6 मिनट के लिए बंद करके आराम दें.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।