मुंबई. कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बच देशभर में लॉकडाउन कर दिया गया है. इसे देखते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कई बड़े ऐलान किए हैं, जिसमें एक उसके ऐसे कर्मचारियों से जुड़ा है, जिनकी सैलरी 30 हजार रुपये से कम है. आरआईएल ने कहा है, 30 हजार रुपये से कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों को वह महीने में दो बार में वेतन देगी.

कंपनी ने एक बयान जारी कर कहा कि कम सैलरी वालों के कैशफ्लो को बचाने और किसी फइनैंशल बर्डन कम करने के लिए कंपनी यह फैसला कर रही है. ऐसा करने से महीने के बीच में उसके कर्मचारियों को नकदी की किल्लत का सामना नहीं करना पड़ेगा. अगर कोई इमर्जेंसी आती है तो कर्मी के पास पैसे होंगे ताकि वह खर्च कर सके. कंपनी ने कहा कि रिलांयस परिवार के 600000 सदस्य कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में पूरी तरह से तैनात हैं.

रिलायंस फाउंडेशन ने बीएमसी के साथ एक 100 बेड का अस्पताल दिया, जो सिर्फ कोविड-19 मरीजों के लिए है. रिलायंस ने हाल में कहा था कि लॉकडाउन की वजह से जो ठेके पर काम करने वाले और टेंपररी कर्मचारी काम पर नहीं जा पा रहे हैं उनकी सैलरी जारी रखी जाएगी. इसके अलावा कंपनी ने रोटेशन ड्यूटी और वर्क फ्रॉम होम की सुविधा भी दी थी.

कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर में अबतक 10000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और लाखों मरीज हैं. भारत में मरीजों की संख्या 500 से ऊपर हो चुकी है. इसी के मद्देनजर मोदी सरकार ने पूरे देश में लॉकडाउन का ऐलान किया है. कोरोना वायरस महामारी को फऐलने से रोकने का सोशल डिस्टैंसिंग ही एकमात्र इलाज नजर आ रहा है, जिसकी वजह से लोगों को घरों से बाहर न निकलने की अपील की जा रही है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।