ढाका. बांग्लादेश के क्रिकेटरों ने अपनी आधे महीने की तनख्वाह सरकार को देने का फैसला किया है. ढाका ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अनुबंधित 17 क्रिकेटरों समेत कुल 27 क्रिकेटरों ने यह दान देने का फैसला किया. बाकी दस खिलाड़ी भी राष्ट्रीय टीम के सदस्य रह चुके हैं.

खिलाड़ियों ने एक संयुक्त बयान में कहा, पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी से जूझ रही है. बांग्लादेश में भी इसका प्रकोप बढ़ रहा है. हम लोगों को बताने की कोशिश कर रहे हैं कि इससे बचाव के लिए जरूरी उपाय किए जाएं.

उन्होंने कहा , हम 27 क्रिकेटर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में अपनी आधे महीने की तनख्वाह दे रहे हैं. यह रकम करीब 25 लाख टका होगी. उन्होंने कहा , यह रकम कम है लेकिन हम सब मिलकर योगदान दे सके तो यह कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में बड़ा योगदान होगा.

बता दें कि बांग्लादेश में अभी तक 39 लोग संक्रमित पाए गए हैं जबकि पांच लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि पूरे विश्व में 18 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और तकरीबन चार लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं. इस वजह से कई लोगों को अपने देश को लॉकडाउन करना पड़ा है. ओलंपिक जैसे खेल को भी कोरोना के कारण रद्द करना पड़ा है. जबकि आईपीएल जैसे चर्चित टूर्नामेंट पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं.

भारत की पुरुष हॉकी टीम को इस वजह से अपना जर्मनी दौरा रद्द करना पड़ा. पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने हाल ही में अपने संसद मद से 15 लाख रुपये देने की घोषणा की थी. हालांकि उसके अलावा तो और कोई खिलाड़ी ने भी इस तरह से मदद की पेशकश नहीं की है. लेकिन सभी खिलाड़ी अपने अपने तरीके से लोगों को जागरूक करने में लगे हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।