पलपल संवाददाता, भोपाल. मध्यप्रदेश में सरकार को लेकर चल रहे संकट के बीच अचानक राज्यपाल लालजी टंडन ने मंगलवार को फ्लोर टेस्ट कराने के निर्देश दे दिए है, वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ किसी भी हालात में फ्लोर टेस्ट कराने के पक्ष में नहीं है, जिसके चलते खबर है कि राज्यपाल भी गुस्से में है, शायद सरकार को बर्खास्त भी किया जा सकता है. इधर कमलनाथ द्वारा फ्लोर टेस्ट न कराने के पीछे ऐसा माना जा रहा है कि सीएम कमलनाथ भी सरकार को बर्खास्त कराना चाह रहे है, जिससे बागियों के मंसूबे भी ध्वस्त हो जाए.

बताया जाता है कि मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार को जब भी बहुमत साबित करना पड़ा तो उन्होने बहुमत साबित कर विपक्ष को करारा झटका दिया है लेकिन इस बार फ्लोर टेस्ट कराने की तमाम कोशिशे की जा रही है, आज कमलनाथ सरकार मामले में सफल भी हो गई और 26 मार्च तक के लिए विधानसभा स्थगित भी हो गई ताकि स्थितियां नियंत्रण में आ सके और कोई नया मौका मिल जाए. लेकिन राज्यपाल लालजी टंडन ने अचानक 17 मार्च को फ्लोर टेस्ट कराने के निर्देश दे दिए.

इन निर्देशों के बाद हड़कम्प मच गया, इस निर्देश के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी पैंतरा बदल दिया है वह भी यही चाहते है कि राज्यपाल अपनी शक्तियों का प्रयोग करते हुए सरकार के खिलाफ कार्यवाही करते हुए बर्खास्त कर दे, ऐसा होने से कमलनाथ को मजबूती मिल जाएगी और वे इस कार्यवाही को द्वेशपूर्ण बताते हुए जनता के सामने अपना पक्ष मजबूती से रख सकेगे. कमलनाथ की सोची समझी रणनीति कहां तक सफल होगी, इससे कांग्रेस को फायदा मिलेगा यह नुकसान होगा, यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा.

गौरतलब है कि राज्यपाल ने विधायकों से पूछा था कि वे स्वेच्छा से आए है इसपर विधायकों ने एक साथ हां में ही जबाव दिया था, राज्यपाल ने यह भी पूछा था कि वे किसी के दबाव में तो नहीं है तो विधायकों ने कहा था कि बिलकुल नहीं.

जिसपर राज्यपाल श्री टंडन ने कहा कि अब लोकतंत्र को बचाना मेरी जिम्मेदारी है और उसके बाद फ्लोर टेस्ट 17 मार्च को कराने की बात सामने आ गई. राज्यपाल के इस निर्णय के बाद ही मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी पैंतरा बदल दिया है वे किसी भी कीमत पर फ्लोर टेस्ट कराने के मूड में नहीं है, वे भी शायद अब सरकार को बर्खास्त कराने क ी रणनीति पर काम कर रहे है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।