नई दिल्ली. सरकारी एविएशन कंपनी एयर इंडिया में अपनी 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचने के लिए सरकार ने इसके लिए बोली लगाने की अंतिम तारीख बढ़ा दी है. इसे बढ़ाकर 30 अप्रैल 2020 कर दिया गया है. पहले ये 17 मार्च 2020 थी.

आपको बता दें कि सरकार, एयर इंडिया, एयर इंडिया एक्सप्रेस की अपनी 100 फीसदी हिस्सेदारी और संयुक्त उपक्रम AISATS की 50 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगी और एयरलाइंस का मैनेमेंट कंट्रोल भी खरीदने वाले के हाथ में ही रहेगा. इसके लिए इच्छुक खरीदार अब 30 अप्रैल 2020 तक एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) जमा कर सकते हैं.

आपको बता दें कि एयर इंडिया की सहयोगी कंपनी एअर इंडिया एक्सप्रेस है. इसके बेड़े में कुल 146 विमान हैं. साल 1932 में टाटा एयर सर्विसेज के तौर पर एयर इंडिया की शुरुआत हुई थी. 1947 में इसका राष्ट्रीयकरण हो गया था और एक साल बाद इसका नाम बदलकर एयर इंडिया हो गया.

पिछले हफ्ते सरकार ने बदले इससे जुड़े नियम- एयर इंडिया को बेचने के लिए सरकार ने एफडीआई नियमों में बदलाव भी किया है. नए नियमों के तहत अब एनआरआई भी 100 प्रतिशत हिस्सेदारी एयर इंडिया में खरीद सकते हैं. इससे पहले एयर इंडिया में 49 प्रतिशत विदेशी निवेश की अनुमति थी.वहीं अनुसूचित विमान कंपनियों में कुछ शर्तों के साथ 100 प्रतिशत एफडीआई की अनुमति है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।