नई दिल्ली. यस बैंक संकट पर कांग्रेस नेता पी चिदबंरम ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि शेयर बाजार अर्थव्यवस्था के प्रबंधन को मापने का सबसे अच्छा जरिया है. 2014 मार्च में लोन बुक अमाउंट 55 हजार करोड़ रुपये था, जो मार्च 2019 में बढ़ कर 2 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंच गया. केवल दो सालों में यह 98 हजार करोड़ से बढ़कर 2 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंच गया.

उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार द्वारा वित्तीय संस्थानों का कुप्रबंधन सार्वजनिक क्षेत्र में रहेगा और इस पर बड़े पैमाने पर बहस होगी. मीडिया, विशेष रूप से सोशल मीडिया के लिए धन्यवाद, जिससे यस बैंक का मुद्दा ज्यादातर लोगों तक पहुंच गया है, जो अर्थव्यवस्था और इसके संस्थानों के बारे में चिंतित हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।