क्राइस्टचर्च. भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ क्राइस्टचर्च टेस्ट में सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा. इसके साथ ही दो मैचों की सीरीज में भारत को 0-2 से हार मिली. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने माना कि इस सीरीज में भारत का खेल स्तरीय नहीं रहा. कोहली बल्लेबाजों से खास तौर पर नाराज नजर आए और साथ ही उन्होंने न्यूजीलैंड की तारीफ भी की.

कोहली ने मैच के बाद प्रजेंटेशन में कहा, हमने पहले टेस्ट में जज्बा नहीं दिखाया और यहां भी हमने पहली पारी में अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन इसके बाद गलतियां दोहराईं. साथ ही न्यूजीलैंड ने शानदार खेल दिखाया. उन्होंने लगातार अच्छे एरिया में गेंदबाजी की. कोहली ने कहा कि बल्लेबाजों ने इतने रन नहीं बनाए जिससे गेंदबाजों को थोड़ी राहत मिलती.

कोहली ने कहा, कुल मिलाकर यह कई चीजों का मेल रहा. हमारे बल्लेबाजों ने गलतियां कीं और न्यूजीलैंड ने लगातार दबाव बनाए रखा. कोहली अपनी टीम के बल्लेबाजों से निराश नजर आए. उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने हम पर दबाव बनाए रखा और हम उसमें फंसे रहे. भारतीय टीम को सीरीज के दोनों मैचों में टॉस हारना पड़ा.

इसके बाद केन विलियमसन ने भारतीय टीम को बल्लेबाजी का न्योता दिया. गेंदबाजों के लिए मददगार हालात पर कीवी टीम ने शानदार खेल दिखाया और भारत को बैकफुट पर रखा. इस पर कोहली ने कहा, टॉस एक कारण हो सकता है लेकिन हम उसके बारे में नहीं सोचते.

यह आपके नियंत्रण में नहीं होता. भारतीय कप्तान ने कहा कि एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आप इस पर विचार नहीं कर सकते. आपको अपना सर्वश्रेष्ठ देना पड़ता है. इस बार हम अपना बेस्ट खेल नहीं दिखा पाए. हमें अब इस पर विचार करना होगा कि क्या गलत हुआ.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।