भिलाई. आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो (ईओडबलू) ने 24 फरवरी सोमवार को रेलवे के भिलाई में पदस्थ ऑफिस सुप्रींटेंडेंट को 10 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा. उसके पेंट की जेब से रिश्वत की रकम बरामद की गई. आर्थिक अपराध की धारा-7 (13-2) के तहत कार्रवाई की गई है. अभी मामले की विवेचना की जा रही है. केंद्र सरकार के किसी कर्मचारी पर ईओडब्ल्यू की यह पहली कार्रवाई है.

एडीजी ईओडब्ल्यू जीपी सिंह ने बताया कि एमआईजी 2 बी 23/5 जवाहर नगर भिलाई निवासी रेलवे कर्मचारी (ट्रैकमैन) सुरेश ने सीबीआई में शिकायत की कि उसका टीए बिल स्वीकृत करने और यूएसएफडी मशीन से गैंग में ट्रांसफर नहीं करने के लिए ऑफिस सुप्रींटेंडेंट एस भट्टाचार्य ने 25 हजार रुपए रिश्वत मांगी है.

मामले पर कार्रवाई करने के लिए सीबीआई ने ईओडब्ल्यू को पत्र भेजा. इसके आधार पर ऑफिस सुप्रींटेंडेंट को ट्रैप करने की योजना बनाई गई. कार्रवाई के लिए डीएसपी डॉ. प्रशांत शुक्ला के नेतृत्व में लंबोदर पटेल, सुरेश सोनी और जेएल साहू की टीम बनाई. फिर टीम के सदस्य एसएसई (पी. वे.) एसईसीआर दफ्तर पहुंचे और कार्रवाई की.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।