मंगल ग्रह को नवग्रहों सेनापति का पद प्राप्त है. मंगल ग्रह मुख्यत: साहस, वीरता, शौर्य, शक्ति, क्रोध सेनापति, युद्ध, शत्रु अस्त्र-शस्त्र, दुर्घटना, भूमि, अचल संपत्ति, छोटे भाई बहनों, वैज्ञानिक, डाक्टर्स, यान्त्रिक कार्यों, पुलिस, सेना, सिर, दुर्घटना, जलना, घाव, शल्य क्रिया, आपरेशन, उच्च रक्तचाप, गर्भपात इत्यादि का कारक होता है. इसके अतिरिक्त मंगल ग्रह ऊर्जा, शक्ति, जोश और पराक्रम भी देखा जाता है. साहस और उग्रता अधिक होने से इस ग्रह को क्रूर ग्रह या पापी ग्रह भी कहा जाता है. मंगल को मेष और वृश्चिक दो राशियों का स्वामित्व प्राप्त है. तथा मंगल मकर राशि में उच्च एवं कर्क राशि में नीचस्थ होता है.

जन्मपत्री में मंगल की विशेष स्थिति मंगल योग का निर्माण करती है और किसी कार्य पर पहल करने की योग्यता मंगल ग्रह ही देता है. जिस प्रकार एक युद्ध में सेनापति अपनी सेना की सफलता और असफलता को अपने नेतृत्व गुण से निर्धारित करता हैं, ठीक इसी प्रकार जीवन युद्ध में व्यक्ति की सफलता और असफलता बहुत हद तक मंगल की स्थिति पर निर्भर करती है. साहस के साथ जीवन की समस्याओं का सामना करना और उनका हल निकालने का कार्य भी मंगल ग्रह ही करता है.

इस बार मंगल 10 नवंबर 2019 को दोपहर 0२:21 तक कन्या राशि में फिर तुला राशि में रहेंगे जो 25 दिसंबर 2019 को रात्रि 09:27 तक इसी राशि में स्थित रहेगा. 10 नवम्बर से 20 नवम्बर तक चित्रा नक्षत्र में रहेगे जो मंगल का नक्षत्र है. 20 नवम्बर से 10 दिसम्बर तक स्वाति नक्षत्र में रहेगे जो राहु का नक्षत्र है. 10 दिसम्बर से 25 दिसम्बर तक विशाखा नक्षत्र में रहेगे जो गुरू का का नक्षत्र है. आईए जानते है मंगल के तुला राशि में परिवर्तन का सभी राशियों पर प्रभाव-

मेष राशि

मंगल आपकी राशि व आठवें भाव के स्वामी हैं और इनका गोचर आपके सातवें मतलब विवाह भाव पर होने वाला है. इस स्थिति में आपको अपने जीवन साथी पर क्रोध करने से बचना होगा, अत्यधिक क्रोध से वैवाहिक जीवन में तनाव बढ़ सकता है. साझेदारी के कुछ प्रस्ताव आपको प्राप्त हो सकते है. यहां मंगल की युति सूर्य और बुध के साथ होने वाली हैं, ऐसे में आप अपने प्रेम संबंधों को विवाह का रुप देने का प्रयास कर सकते है. करियर में कुछ सफलता मिलने वाली है.

कार्यक्षेत्र में किसी विशेष पद की प्राप्ति हो सकती है. व्यक्तिगत जीवन तनावपूर्ण रहेगा. शादीशुदा दंपत्तियों के बीच लड़ाई-झगड़े हो सकते हैं बावजूद इसके जीवनसाथी की सेहत में गिरावट आपको परेशान कर सकती है. बच्चों को भी इस गोचर के दौरान परेशानियां उठानी पड़ सकती हैं हालांकि मां को इस समय का पूर्ण लाभ मिलेगा. कार्यों में बाधा आ सकती है लेकिन धैर्य व संयम के साथ आप अपने कर्तव्यों का पालन कर सकेंगे.

वृषभ राशि

मंगल सातवें और बारहवें भाव के स्वामी हैं और गोचर में इस समय आपके छ्ठे भाव पर रहेंगे. इस दौरान आपके द्वारा किए गए प्रयास सफल होंगे और लाभ प्राप्त होगा. विरोधियों को हराकर आप अपने क्षेत्र में आगे बढ़ सकेंगे. छोटी-मोटी परेशानियां हो सकती हैं, अन्यथा सेहत ठीक रहेगी. आर्थिक स्थिति काफी अच्छी होगी. सरकारी नीतियों से लाभ मिल सकता है. आत्म सम्मान में वृद्धि होगी और जीवन में सुख-शांति व समृद्धि बनी रहेगी. व्ययों पर नियंत्रण इस समय आपको रखना होगा. भाग्य के भरोसे रहने के जगह, आगे बढ़कर स्वयं परेशानियों का हल निकालने की कोशिशें सफल रहेंगी.

मिथुन राशि

मंगल 6वें हाउस व 11वें हाउस के स्वामी होकर 5वें हाउस में विराजित है. आपकी राशि से मंगल पांचवें भाव में प्रवेश करेगा. इस गोचर के दौरान आर्थिक लाभ होगा. साथी के साथ मतभेद के कारण प्रेम संबंधों में परेशानी व तनाव उत्पन्न हो सकता है. बच्चों को भी किसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. लेकिन जीवनसाथी को इस समय का लाभ प्राप्त होगा.

करियर के लिहाज़ से आपको इस दौरान कर्ज़ों से मुक्ति मिलेगी साथ ही आप जॉब चेंज का प्लान भी बना सकते हैं. स्वभाव से घमंडी हो सकते हैं. मित्रेश सूर्य के साथ होने से इस समय आप किसी मित्रता को प्रेम संबंधों में बदलते नजर आयेंगे. अत्यधिक जोखिम लेने से आपको बचना होगा. आय के पक्ष से समय उत्तम बना हुआ है. व्ययों पर नियंत्रण रखने में आपको सफलता मिलेगी.

कर्क राशि

मंगल 5वें हाउस व 10वें हाउस के स्वामी होकर 4थे हाउस में विराजित है. आपकी राशि से मंगल चौथे भाव में गोचर करेगा. सरकारी फायदे जैसे घर, गाड़ी आदि सुविधाओं का लाभ इस दौरान प्राप्त कर सकते हैं. वहीं आपके जीवन साथी को भी उच्च पद प्राप्त हो सकता है. सामाजिक छवि और ज़्यादा बेहतर तरीके से उभरेगी. जीवन साथी पर व्यर्थ का क्रोध करने से बचें. स्नेह और सहनशक्ति से वैवाहिक जीवन की शांति को बनाए रखने में सफलता मिलेगी. कार्यभार की अधिकता आपकी परेशानियां बढ़ा सकती है. कार्यक्षेत्र में आपको नेतृत्व शक्ति दिखाने के अवसर बन सकते है. मेहनत के अनुसार लाभ न मिलने से निराश न हो.

सिंह राशि

मंगल 4थे हाउस व 9वें हाउस के लार्ड होकर ३रे हाउस में विराजित है. आपकी राशि से मंगल तीसरे भाव में प्रवेश करेगा. ऐसे में आपके साहस में कमी आ सकती है किंतु आप अपने संकल्प के प्रति अडिग रहेंगे. ये संकल्प आपको आपके विरोधियों से आगे लेकर जाएंगे. भाई-बंधुओं के साथ मतभेद हो सकते हैं. जॉब चेंज का प्लान भी बना सकते हैं. इस दौरान आपको आर्थिक लाभ होगा. धार्मिक कार्यों में रूचि बढ़ेगी. यात्राओं का भी योग नज़र आ रहा है. उच्च अधिकारियों व प्रख्यात लोगों से मिलने का मौका प्राप्त होगा. प्रतियोगी परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले छात्रों को सफलता हासिल होगी. भाग्य आपके साथ बना हुआ है. कार्यक्षेत्र में विवाद से बचने का प्रयास करें.

कन्या राशि

मंगल 3रे हाउस व 8वें हाउस के लार्ड होकर 2रे हाउस में विराजित है. आपकी राशि से मंगल दूसरे भाव में गोचर करेगा. इस बीच आपकी भाषा कठोर हो जाएगी जिसके चलते परिवार में विवाद हो सकते हैं. गलत विचारों के लोगों से सामना हो सकता है. आय वृद्धि हेतु बहुत सी परेशानियां आएंगी परंतु आप उनसे निपटकर अच्छी रकम़ जोड़ पाएंगे.

नेत्र रोग, सिरदर्द, बुख़ार जैसी चीजें आपको परेशान कर सकती हैं. संतान से रिश्ते मजबूत और स्नेहपूर्ण बने रहें, इसका प्रयास आपको इस समय में करना होगा. बच्चों पर नाराज होने की जगह उन्हें समझने का प्रयास करें. कोई प्रेम संबंध हो तो थोड़ा विनम्रता से काम लें. अचानक से कुछ घटित होगा, जो आपने सोचा भी नहीं होगा. पिता का आशीर्वाद लेकर महत्वपूर्ण कार्य करें, सफलता हासिल होगी.

तुला राशि

मंगल 2रे हाउस व 7वें हाउस के लार्ड होकर आपकी राशि में विराजित है. आपकी राशि से मंगल प्रथम भाव में गोचर कर स्थिर रहेगा. इस दौरान आपके कामों में रुकावटें आएंगी. लेकिन धैर्य से काम करना बेहतर होगा. स्वभाव में गुस्सा और घमंड की वृद्दि हो सकती है. शादीशुदा लोगों को आपसी टकराव होने से अलगाव की संभावना बन रही है. अचानक यात्रा के योग बन रहे हैं साथ ही सेहत बिगड़ने के भी आसार हैं. गोचर की इस पूर्ण अवधि में मानसिक तनाव बना रहेगा. करियर में उतार-चढ़ाव संभव है. अचल संपत्ति से जुड़े लेन देन के लिए समय की अनुकूलता है. कोई नई साझेदारी शुरु हो सकती है, कुछ नए करार और समझौते होने के भी शुभ योग बन रहे हैं.

वृश्चिक राशि

मंगल आपकी राशि व 6वें हाउस के लार्ड होकर 12वें हाउस में विराजित है. आपकी राशि से मंगल 12 वें भाव में आएगा. इस दौरान आपको स्वास्थ्य संबंधी छोटी-छोटी परेशानियाँ आ सकती है. लंबी यात्रा का योग हैं, विदेश जाने का मौका भी मिल सकता है. पैसे का खर्च अधिक होगा. दोस्तों के साथ कुछ संबंध बिगड़ सकते हैं. तनाव ग्रस्त जीवन रहेगा लेकिन आपको संयम व धैर्य से काम करने की जरूरत है. स्वास्त्थ्य में किसी भी प्रकार की कमी को अनदेखा करने से बचना होगा. अन्यथा अस्पताल की शरण लेनी पड़ सकती है. विरोधी और रोग दोनों प्रभावी हो रहे हैं. दोनों पर नियंत्रण बनाए रखना होगा. यह समय आपके लिए स्वास्थ्य और वैवाहिक जीवन के लिए कष्ट्कारी साबित हो सकता है.

धनु राशि

मंगल 5वें हाउस व 12वें हाउस के लार्ड होकर 11वें हाउस में विराजित है. इस राशि वाले जातकों के लिए भी मंगल लाभेश की स्थिति का निर्माण कर रहे रहे हैं. इस कारण से मकर राशि के जातकों के लिए धन लाभ हेतु जनवरी 2019 से मार्च 2019 के बीच धन लाभ के अनेकों योग बनेंगे. इसके अतिरिक्त बिजनेस से जुड़े लोगों के लिए भी यह समय अत्यंत लाभकारी होगा. नौकरी-पेशे वालों के लिए उन्नति के अवसर हैं. व्ययों पर इस अवधि में आपका पूरा नियंत्रण रहेगा. छात्रों और संतान के लिए समय की अनुकूलता बनी हुई है. संतान की कामना कर रहे व्यक्तियों को संतान प्राप्ति के योग बन सकते है.

मकर राशि

मंगल 4थे हाउस व 11वें हाउस के लार्ड होकर 10वें हाउस में विराजित है. आपकी राशि से मंगल दसवें भाव में गोचर करेगा. इस गोचर के दौरान कार्यक्षेत्र पर तरक्की हासिल होगी. स्वभाव में घमंड के बढ़ने से नुकसान हो सकते हैं. वहीं दूसरी तरफ घरेलू जीवन में भी लड़ाई-झगड़े होते रहेंगे. सरकारी नौकरी करने वालों को गोचर के दौरान लाभ मिल सकता है.

आत्म सम्मान में वृद्धि होगी और प्रशंसा के हकदार होंगे. कार्यों में व्यस्त रहने के कारण परिवार को समय नहीं दे पाएंगे. इस कारण घर में क्लेश भी रहेंगे. इन सबके अलावा शादीशुदा जीवन में भी टकराव रहेंगे. मेहनत की तुलना में आय कुछ कम हो सकती है. परन्तु आप सकारात्मक होकर कार्य करते रहें. संपत्ति लेन देन का कार्य सहजता से किया जा सकता है.

कुंभ राशि

मंगल 3रे हाउस व 10वे हाउस के लार्ड होकर 9वें हाउस में विराजित है. आपकी राशि से मंगल नौवें भाव में प्रवेश करेगा. जीवन में संघर्ष बढ़ जाएगा और हर कार्य को पूर्ण करने के लिए ज़्यादा मेहनत करनी होगी. पिता की सेहत में गिरावट देखने को मिल सकती है. कार्यक्षेत्र बदल सकता है या फिर ट्रांसफर भी हो सकता है. भाई-बहनों से विवाद हो सकता है. धार्मिक कामों में रुझान बढ़ेगा साथ ही सफलता प्राप्ति के लिए चुनौतियों का सामना करना होगा. मेहनत से जी न चुराये, कार्यों को समय रहते निपटा लें. कोई नई मित्रता शुरु हो सकती है. कम दूरी की यात्राओं के भी योग बन रहे हैं. माता की सेहत का खास ख्याल रखें. कमी होने पर शीघ्र उपचार करायें.

मीन राशि

मंगल 2रे हाउस व 9वे हाउस के लार्ड होकर 8वें हाउस में विराजित है. मंगल आपके आठवें भाव पर आने वाला है. ऐसे में आपके द्वारा नौकरी में बदलाव के प्रयास सफल रहेंगे. भाग्य की कमी आपको इस अवधि में विशेष रुप से खलेगी. इसकी वजह से कुछ कार्य बनने से पूर्व बाधित होंगे. कहीं से रुका हुआ धन प्राप्त होकर आपको खुशी देगा, इससे धन संचय में वृद्धि होगी, और परिवार के साथ समय बिताने के योग भी बन रहे हैं. मित्रों के साथ आनंदमय समय व्यतीत होगा. रिश्तेदारों से मेलमिलाप के योग बन सकते है.

ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव कुंडली विशेषज्ञ और प्रश्न शास्त्री

8178677715, 9811598848

ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव पिछले 15 वर्षों से सटीक ज्योतिषीय फलादेश और घटना काल निर्धारण करने में महारत रखती है. कई प्रसिद्ध वेबसाईटस के लिए रेखा ज्योतिष परामर्श कार्य कर चुकी हैं. आचार्या रेखा एक बेहतरीन लेखिका भी हैं. इनके लिखे लेख कई बड़ी वेबसाईट, ई पत्रिकाओं और विश्व की सबसे चर्चित ज्योतिषीय पत्रिकाओं में शोधारित लेख एवं भविष्यकथन के कॉलम नियमित रुप से प्रकाशित होते रहते हैं. जीवन की स्थिति, आय, करियर, नौकरी, प्रेम जीवन, वैवाहिक जीवन, व्यापार, विदेशी यात्रा, ऋण और शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य, धन, बच्चे, शिक्षा, विवाह, कानूनी विवाद, धार्मिक मान्यताओं और सर्जरी सहित जीवन के विभिन्न पहलुओं को फलादेश के माध्यम से हल करने में विशेषज्ञता रखती हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।