नजरिया. महाराष्ट्र में जिस तरह से सियासत ने करवट बदली है, उसका अंदाज मोदी-शाह की बीजेपी को नहीं रहा होगा? बीजेपी, शिवसेना को कच्चा खिलाड़ी मान कर चल रही थी, लेकिन गुजरते समय के साथ शिवसेना ने यह साबित कर दिया कि वह सियासी चतुराई के मामले में बीजेपी से उन्नीस नहीं है? यही वजह है कि उद्धव ठाकरे ने सीएम फडणवीस के बयान पर नाराजगी जताई थी और कहा गया था कि- भाजपा यूज एंड थ्रो की पॉलिसी पर चल रही है!

इधर खबर है कि..... महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जारी सियासी रस्साकशी के बीच शिवसेना ने देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधते हुए उन्हें आउटगोइंग मुख्यमंत्री करार दिया? याद रहे, शिवसेना और बीजेपी करीब तीन दशक से एक-दूजे की सहयोगी हंै, लेकिन इस बार 50-50 की शर्तों ने बीजेपी को उलझा के रख दिया है! शिवसेना 50-50 फार्मूले पर अड़ी हुई है. शिवसेना का कहना है कि- बीजेपी के साथ ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री के पद पर समझौता हुआ था, लेकिन अब इससे इनकार कर रही है.

देवेंद्र फडणवीस ने स्पष्ट रूप से कहा है कि ऐसा कोई समझौता नहीं हुआ है? शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा गया कि.... अमित शाह से मुलाकात के बाद सब कुछ देवेंद्र फणडवीस के अगले कदम पर निर्भर है. आउटगोइंग मुख्यमंत्री, जो प्रदूषित दिल्ली से महाराष्ट्र वापस आ गए हैं, उन्हें अगला कदम उठाना होगा? उनका अगला कदम ही आगे का सबकुछ निर्धारित करेगा! देखना दिलचस्प होगा कि क्या वाकई आउटगोइंग मुख्यमंत्री साबित होंगे देवेंद्र फडणवीस?

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।