नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट ने इंडियन क्रिकेट फैन्स और मीडिया को खास सलाह दी है, उनका मानना है कि ऋषभ पंत और महेंद्र सिंह धौनी के बीच तुलना नहीं की जानी चाहिए. गिलक्रिस्ट ने इसके साथ ही पंत को भी सलाह देते हुए कहा कि वो धौनी से जितना सीख सकते हैं सीख लें, लेकिन उनके जैसा बनने की कोशिश ना करें.

पंत को धौनी के उत्तराधिकारी के रूप में देखा जा रहा है, लेकिन हालिया दौर में वो उम्मीदों पर खरे नहीं उतर सके हैं. वो जब भी फेल होते हैं, उनकी तुलना सीधे धौनी से की जाती है. गिलक्रिस्ट इस समय भारत में हैं. अगले साल ऑस्ट्रेलिया में टी-20 विश्व कप खेला जाना है और वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के ही शहर पर्थ के ओप्टस स्टेडियम में भारत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच खेला जाना है. गिलक्रिस्ट वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के प्रीमियर मार्क मैक्गोवन के साथ अपने क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भारत में हैं.

धौनी नहीं पंत बनो

गिलक्रिस्ट ने कहा, इंडियन क्रिकेट फैन्स और मीडिया को मेरी नंबर-1 सलाह है कि वो पंत और धौनी की तुलना नहीं करें. धौनी शानदार हैं उनके जैसा कोई नहीं है. मेरा निजी अनुभव है. मैं जब टीम में आया था तब इयान हिली ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज विकेटकीपर हुआ करते थे. उनके बाद मैं आया. मैंने हिली से सीखने की कोशिश की लेकिन उनके जैसा बनने की नहीं. मैं पंत से यही कहूंगा कि धौनी से जितना सीख सकते हो सीखो, लेकिन धौनी जैसा बनने की कोशिश नहीं करो, बल्कि पंत बनो.

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने सबसे पहले डे-नाइट टेस्ट मैच खेला था. भारत ने इसके लिए शुरुआती दौर में रजामंदी नहीं दी थी, लेकिन पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का अध्यक्ष बनने के बाद भारत ने इस ओर कदम बढ़ाया और अब 22 से 26 नवंबर के बीच भारत कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला डे-नाइट टेस्ट खेलेगा.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।