बेंगलुरू. कर्नाटक मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा का एक कथित वीडियो वायरल होने के बाद बवाल मच गया है. वीडियो में येदियुरप्पा कह रहे हैं कि किस तरह भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी बागी विधायकों के इस्तीफे करवाकर कांग्रेस-जेडीएस की गठबंधन सरकार को गिराने में भूमिका निभाई. इस खुलासे के बाद कांग्रेस भड़क गई है और सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की बात की है. कांग्रेस नेता दिनेश राव ने यह वीडियो ट्वीट भी किया है.

खबर के मुताबिक, यह वीडियो प्रदेश भाजपा की एक बैठक का है. 5 दिसंबर को प्रदेश की 15 विधानसभा सीटों उपचुनाव होने हैं. टिकट बंटवारे को लेकर यह बैठक बुलाई गई थी. प्रदेश के अन्य नेता अपने लोगों को टिकट देना चाहते हैं, लेकिन येदियुप्पा उन बागी विधायकों का पक्ष ले रहे हैं, जिन्होंने इस्तीफे देकर भाजपा की सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाई. येदियुरप्पा ने प्रदेश के भाजपा नेताओं को संबोधित करते हुए इस बात पर नाराजगी जाहिर की कि वे कांग्रेस-जेडीएस के बागी नेताओं का साथ नहीं दे रहे हैं.

सात मिनट का वीडियो

इस सात मिनट लंबे वीडियो में कथित तौर पर मुख्यमंत्री कह रहे हैं, 17 बागी विधायकों के कारण हम सत्ता में हैं अथवा 3.5 साल हम सत्ता में रहेंगे. हमने जो भी प्रयास किए वह आप सभी जानते हैं और यहां तक कि राष्ट्रीय अध्यक्ष भी जानते थे. हमने विधायकों को 2.5 महीने तक मुंबई में रखा. तीन महीने तक ये विधायक न तो विधानसभा गए और न ही अपने परिवारों से मिले.

इस वायरल वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए जेडीएस (जनता दल सेकुलर) ने कहा है कि आज की तारीख तक हम जो बात कहते आ रहे हैं, वायरल वीडियो से वह बात पक्की हो गई है कि बीजेपी के आला नेताओं ने कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों का शिकार किया.

क्या है ऑपरेशन कमल?

जेडीएस के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बीएम फारूक ने कहा, हमने यह वीडियो सोशल मीडिया पर देखा है. यह सबूत है कि बीजेपी के आला नेता गठबंधन सरकार गिराने के लिए चलाए गए ऑपरेशन कमल में शामिल थे. कानून को अपना काम करने दीजिए और कर्नाटक की जनता अपना फैसला खुद ही लेगी.

वीडियो में कथित तौर पर मुख्यमंत्री को यह भी कहते हुए सुना जा सकता है कि पार्टी के सदस्य इन बागी विधायकों का समर्थन करने को तैयार नहीं हैं. वीडियो में सुना जा सकता है, ऐसा लगता है कि आप में कोई भी नहीं चाहता कि सरकार चलती रहे. आप बागी विधायकों का साथ नहीं दे रहे हैं. आप उनकी जगह खड़े होकर सोचिए.

इस वीडियो के वायरल का समय काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि कर्नाटक में 5 दिसंबर को उपचुनाव होने जा रहे हैं. यह पहली बार नहीं है जब यह आरोप लगाते हुए वीडियो वायरल हुआ हो कि येदियुरप्पा ने ऑपरेशन कमल पर मुहर लगा दी है. इसके पहले पूर्व मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने भी एक आडियो क्लिप जारी की थी और आरोप लगाया था कि येदियुरप्पा ने जेडीएस विधायक के बेटे से पार्टी बदलने के लिए संपर्क किया था.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।