नई दिल्ली. भारत और बांग्लादेश के बीच 3 मैचों की टी20 सीरीज का पहला मैच नई दिल्ली में 3 नवंबर को खेला जाना है. लेकिन उससे पहले टीम की चिंता बढ़ाने वाली खबर आई है, जिसमें कप्तान व सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा चोटिल हो गए हैं. रोहित को प्रैक्टिस के दौरान बाईं जांघ पर गेंद लगी, जिसके चलते उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा.

रोहित को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में शुक्रवार को प्रैक्टिस के दौरान चोट लगी. उन्हें नेट अभ्यास के दौरान थ्रो डाउन स्पेशलिस्ट नुवान सेनेविरत्ने द्वारा फेंकी गई गेंद जांघ पर लगी. गेंद लगने के कारण रोहित को अभ्यास छोड़कर मैदान से बाहर जाना पड़ा. हालांकि रोहित तुरंत अपनी चोट की बर्फ से सिकाई करते दिखे. वे चोट को लेकर निराश भी नजर आए. टीम प्रबंधन की ओर से रोहित की चोट को लेकर कोई अपडेट नहीं दिया है. फिलहाल ये भी पता नहीं चल पा रहा कि उनकी चोट कितनी गंभीर है. रोहित को तब चोट लगी जब सुबह के सत्र में टीम का अभ्यास शुरू हुआ ही था. टीम के थ्रोअर नुआन ने रोहित की ओर गेंद फेंकी, जिसे रोहित खेल नहीं पाए और गेंद सीधे उनकी जांघ पर जा लगी. रोहित ने तुरंत ग्ल्वस निकाले और दर्द से कराहते हुए बाहर निकल गए. टीम के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर और नुवान ने उन्हें संभाला.

रोहित का चोटिल होना टीम के लिए बड़ी चिंता का कारण है क्योंकि रोहित टीम के कप्तान हैं और सलामी बल्लेबाज भी हैं. विराट कोहली द्वारा ब्रेक लेने के बाद रोहित को बांग्लादेश के खिलाफ 3 मैचों की टी20 सीरीज के लिए टीम का कप्तान बनाया गया है. टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली टेस्ट सीरीज के दौरान ही टीम से जुड़ेंगे.

हालांकि बताया जा रहा है कि चोट ज्यादा गंभीर नहीं है क्योंकि रोहित को चलने में कोई दिक्कत नहीं हो रही. लेकिन चोट के कारण रोहित बाद में अभ्यास के लिए नहीं लौटे. चोटिल होने के पहले हालांकि वे काफी अच्छी लय में दिख रहे थे. अभ्यास के दौरान वे अच्छे शॉट्स खेल रहे थे. माना जा रहा है कि टीम रोहित को लेकर कोई जोखिम नहीं लेना चाहती, इस वजह से ही वे बाद में नेट्स में नहीं लौटे.

कौन है नुवान

फिलहाल रोहित के चोटिल होने के बाद एक सवाल उठ रहा है और सभी टीम के थ्रो डाउन स्पेशलिस्ट नुवान सेनेविरत्ने के बारे में जानना चाह रहे हैं. तो बता दें कि नुवान श्रीलंका के पूर्व खिलाड़ी हैं. वर्तमान में वे थ्रो डाउन स्पेशलिस्ट के तौर पर टीम इंडिया से जुड़े हैं. वे दुबई में 2018 में हुए एशिया कप के समय से टीम के साथ हैं. नुवान ने हालांकि 2 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं. टीम के साथ पूर्व में राघवेंद्र बतौर थ्रो डाउन स्पेशलिस्ट जुड़े थे. लेकिन बल्लेबाजों को बाएं हाथ के गेंदबाजों के खिलाफ अच्छी प्रैक्टिस मिले, इसलिए नुवान को टीम से जोड़ा गया.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।