नई दिल्ली. आज से नए महीने की शुआत होने जा रही है और नए महीने की शुरुआत के साथ ही कई नियमों में हुए बदलाव भी होने वाले हैं. इन्ही बदलाव के चलते बदले हुए नियमों का सीधा असर आपकी जेब पर पड़ने वाला है. 1 नवंबर से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने डिपॉजिट पर ब्याज दरों में बदलाव कर दिया है. इसके अलावा 1 नवंबर से ही ग्राहकों या मर्चेंट से एमडीआर भी नहीं वसूला जाएगा. साथ ही कुछ राज्यों में बैंकों के कामकाज के समय में भी बदलाव हुआ है.

देश के करोड़ों कारोबारियों के लिए भी आज से एक अहम नियम में बदलाव हो गया है. वित्त मंत्रालय ने 1 नवंबर यानी आज से भुगतान लेने के नियमों में बदलाव करने जा रहा है. इसके तहत कारोबारियों को अब डिजिटल पेमेंट लेना अनिवार्य है. इसके अतिरिक्त ग्राहक या मर्चेंट्स से डिजिटल पेमेंट के लिए कोई भी शुल्क या मर्चेंट डिस्काउंट रेट (MDR) नहीं वसूला जाएगा.

CBDT ने इच्छुक बैंकों और पेमेंट सिस्टम प्रोवाइडर्स से आवेदन आमंत्रित किए हैं. नए नियम के अनुसार 50 करोड़ रुपये से ज्यादा के टर्नओवर वाले कारोबारियों के ऊपर ही यह नियम लागू होगा. नए नियम में कारोबारियों को इलेक्ट्रॉनिक मोड से भुगतान लेने पर अब कोई भी शुल्क या चार्ज नहीं देना होगा.

एसबीआई बैंक के ग्राहकों के लिए 1 नवंबर से ब्याज की दरें बदल गई हैं. 1 लाख रुपये के डिपॉजिट पर ब्याज की दर 3.50 से घटकर 3.25 रह गई है. वहीं 1 लाख रुपये से ऊपर के डिपॉजिट पर पहले की ही तरह ब्याज मिलता रहेगा. हालांकि एसबीआई पहले ही एक लाख रुपये से ऊपर के डिपॉजिट वाले बैंक खाते के ब्याज दर को रेपो रेट से जोड़ने की घोषणा कर चुका है. इस समय रेपो रेट 3 फीसदी है. 

महाराष्ट्र में सभी PSU बैंकों के लिए 1 नवंबर को नया टाइमटेबल लागू होगा. नए टाइम टेबल के मुताबिक रिहायशी इलाके के बैंक सुबह 09:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक खुले रहेंगे. वहीं बैंकों में वित्तीय कामकाज सुबह 11:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक होंगे. कुछ बैंकों सुबह 9:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक खुले रहेंगे. कुछ इलाकों में वित्तीय कामकाज सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक होंगे.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।