प्रॉपर्टी से जुड़े मसलों के लिए RERA का दरवाजा खटखटा सकते हैं, लेकिन इसके लिए आपके पास पूरे दस्तावेज होने चाहिए. RERA में आप कैसे अपनी शिकायत को आगे कैसे बढ़ा सकते हैं, इसकी सारी डीटेल जानिए- प्रॉपर्टी से जुड़े मसलों के लिए आप रियल इस्टेट रेग्युलेटरी अथॉरिटी (RERA) का दरवाजा खटखटा सकते हैं. इसके लिए आपको सिलसिलेवार ढंग से कौन-कौन से स्टेप उठाने हैं, यह जानना जरूरी है. आप कैसे अपना केस सुलझा सकते हैं, हम यहां बता रहे हैं-

1.आपकी जो भी शिकायत हो, उससे जुड़े सारे दस्तावेज इकट्ठा करें.

2. स्टेट RERA की वेबसाइट पर जाएं और Appellate Tribunal में जाकर online Appeals में जाएं. यहां आपसे लॉगइन और पासवर्ड जनरेट करने को कहा जाएगा.

3. इसके बाद आपसे प्रोजेक्ट से जुड़े डिटेल्स पूछे जाएंगे. प्रोजेक्ट संबंधी दस्तावेज और आप क्या चाहते हैं, यह भी बताना होगा.

4. मामले में किस तरह की राहत आप चाहते हैं, इसका जिक्र करें. मामले के बैकग्राउंड और कानूनी प्रावधानों को भी बताएं.

5. मामले की सुनवाई के लिए एक तय फीस भी आपको ऑनलाइन जमा करनी होगी.

6.RERA के अधिकारी सुनवाई कर आदेश पारित करेंगे.

7. अगर उनके आदेश से आप संतुष्ट नहीं हैं तो आदेश मिलने के 60 दिनों के अंदर अपीलेट ट्रिब्यूनल में आप जा सकते हैं. अगर वहां भी आपको फैसले से संतुष्टि नहीं मिलती है तो आप हाई कार्ट का दरवाजा खटखटा सकते हैं. फेस्टिव सीजन में भी रियल एस्टेट सेक्टर को नहीं मिली राहत प्रॉपर्टी को लेकर विवाद और देश के मशहूर बिल्डर्स को लेकर शिकायतों के चलते ही शायद देश के रियल एस्टेट सेक्टर को इस साल त्योहारी सीजन की मांग का भी कोई सहारा नहीं मिल पा रहा और लगातार मंदी का माहौल बना हुआ है.

चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में देश के प्रमुख शहरों में मकानों की बिक्री पिछले साल से तकरीबन 25 फीसदी घट गई है. पिछले साल के मुकाबले इस साल जुलाई-सितंबर के दौरान नए प्रोजेक्ट में 45 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. रियल एस्टेट सेक्टर के ये आंकड़े प्रॉपटाइगर डॉट कॉम की एक रिपोर्ट में सामने आए हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।