तोक्यो. ओलंपिक मुक्केबाजी के अधिकारी 2020 खेलों के ट्रायल में नयी स्कोरिंग प्रणाली का प्रयोग करेंगे जिससे विवादों से जूझ रहे इस खेल की ‘विश्वसनीयता' फिर से हासिल की जा सके.

नयी प्रणाली में जजों के अंकों को वास्तविक समय में स्क्रीन पर दर्शाया जाएगा. तोक्यो 2020 में मुक्केबाजी स्पर्धा का आयोजन रयोगोकु कोकुगिकान सुमो स्टेडियम में होगा. इसका परीक्षण इस स्टेडियम में होने वाले ट्रायल मैचों को होगा.

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने एआईबीए से ओलंपिक के क्वालीफाइंग स्पर्धा के आयोजन करने का अधिकार वापस ले लिया था और इसके लिए एक विशेष कार्य दल का गठन किया था. इससे पहले 2016 रियो ओलंपिक में मुक्केबाजी के स्कोरिंग में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी का आरोप लगा था.

इस कार्य दल की अगुवायी करने वाले जापान ओलंपिक समिति के अधिकारी मोरिनारी वतानाबे ने मंगलवार को कहा, मुक्केबाजी ओलंपिक से बाहर होने के कगार पर है. हमें फिर से इसके भरोसे को कायम करना है. यह हमारी शीर्ष प्राथमिकता है.

नयी प्रणाली के तहत मुक्केबाज के वार करते ही जजों को एक बटन दबाना होगा और उनके फैसले तुरंत एक स्क्रीन पर दिखाया जाएगा. इस त्वरित प्रतिक्रिया से निर्णय में स्पष्टता आयेगी.

वतानाबे ने कहा कार्य बल इस बात पर विचार कर रहा है कि क्या स्क्रीन दर्शकों के साथ-साथ जजों और रेफरी को भी दिखाई देनी चाहिए. उन्होंने कहा, सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि निर्णय निष्पक्ष और पारदर्शी होना चाहिए.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।