चीनी टेक कंपनी शाओमी (Xiaomi) ने कुछ सालों के अंदर ही भारत में कम क़ीमतों के स्मार्टफोन बाजार पर कब्ज़ा कर लिया है. इस चीज को टेक विशेषज्ञों ने समझाया है. 15 मिनट के भीतर ही शाओमी का लेटेस्ट स्मार्टफोन रेडमी नोट 8 को बिकने में, जब सोमवार को उसे ऑनलाइन फ्लेश सेल के लिए डाला गया. कंपनी के लिए ये कोई नई बात नहीं है बल्कि ये कंपनी की इंडिया स्ट्रैटिजी का अहम हिस्सा है. 

टेक्नोलॉजी मामलों की पत्रकार माला भार्गव ने कहा है कि आपको पहले ऑनलाइन रजिस्टर करना होता है और फिर इन फ्लेश सेल्स पर नज़र रखनी होती है. जैसे ही ये शुरू हो आप ख़रीददारी कर सकते हैं. हालांकि शाओमी के मोबाइल ऑफलाइन स्टोर्स में भी मिलते हैं. ज़्यादातर नए मॉडल पहले ऑनलाइन बिकते हैं, जो कंपनी की सेल का आधे से ज़्यादा होता है.

2015 में ली थी शाओमी ने एंट्री

शाओमी 2015 में भारतीय बाज़ार में आया था. टेलिकॉम रिसर्च फ़र्म कन्वर्जेंस कैटेलिस्ट के पार्टनर जयंत कोला के मुताबिक़ कंपनी ने भारत में स्टोर बनाने पर निवेश नहीं किया. इसके बजाय उन्होंने अपने उत्पादों को ऑनलाइन बेचने पर फोकस किया. इससे डिस्ट्रिब्यूशन कॉस्ट कम हो गई, जिसकी वजह से फोन सस्ते हो गए.

शाओमी की स्मार्टफोन बाजार में है इतनी हिस्सेदारी

जयंत कोला ने कहा है कि उनकी ऑनलाइन मौजूदगी से भारत में उन्हें पसंद करने वालों की तादाद बढ़ी है. इससे शाओमी देश के स्मार्टफोन मार्केट में एक बड़ा प्लेयर बनकर उभरा है. भारत के बढ़ते स्मार्टफोन मार्केट पर आधे से ज्यादा नियंत्रण चीनी कंपनियों का है. इस समय इन कंपनियों से 45 करोड़ से ज्यादा ग्राहक जुड़े हैं. मतलब भारत में शाओमी का आठ अरब डॉलर का बाजार है. वहीं, शाओमी की भारत के बाजार में 28% हिस्सेदारी है

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।