कोलकाता. देश का ईडन गार्डन मैदान जल्द ही भारतीय क्रिकेट के एक ऐतिहासिक पल का गवाह बन सकता है. भारत और बांग्लादेश के बीच 22 से 26 नवंबर के बीच इस मैदान पर टेस्ट मुकाबला खेला जना है. खबर है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को 22 से 26 नवंबर के बीच कोलकाता के ईडन गार्डन में खेले जाने वाले टेस्ट मैच को डे-नाइट फॉर्मेट में खेलने का प्रस्ताव दिया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया ने बीसीसीआई के एक आधिकारिक सूत्र के हवाले से अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि बीसीसीआई बांग्लादेश के खिलाफ ईडन गार्डन में खेले जाने वाले टेस्ट मुकाबले को डे-नाइट फॉर्मेट में आयोजित करने की योजना पर काम कर रही है. क्रिकबज की एक रिपोर्ट के मुताबिक बीसीबी ने अभी इस अनुरोध पर कोई फैसला नहीं किया है. बीसीबी के ऑपरेशन चैयरमैन अकरम खान ने रविवार 27 अक्टूबर को ढाका में पत्रकारों को बताया है कि बीसीसीआई ने डे-नाइट टेस्ट मैच का प्रस्ताव दिया है. हम कुछ सोचकर इस बारे में फैसला करेंगे. हमें दो-तीन दिन पहले लेटर मिला है, हम इस बारे में फैसला करेंगे, लेकिन हमने अभी इस पर कोई चर्चा नहीं की है. हम बीसीसीआई को एक या दो दिन में अपने फैसले से अवगत करा देंगे.

क्रिकबज ने रिपोर्ट में बीसीबी के चीफ ऐग्जिक्यूटिव निजामुद्दीन चौधरी को कोट करते हुए कहा कि खिलाडिय़ों और टीम प्रबंधन की सहमति के बिना वह कोई फैसला नहीं ले सकते. चौधरी ने कहा है कि सबसे पहले हमें खिलाडिय़ों और टीम प्रबंधन के सदस्यों से इस बारे में बात करनी होगी. उनकी सहमति जरूरी है. यह पूरी तरह से तकनीकी मामला है.

बीसीसीआई के नये चेयरमैन गांगुली भी हैं डे-नाइट टेस्ट के पक्षधर

बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बने सौरभ गांगुली भी डे-नाइट टेस्ट मैच के पक्ष में नजर आते हैं. गांगुली ने कुछ दिन पहले ही डे-नाइट टेस्ट को लेकर कहा था कि हम इल पर जल्द ही विचार करेंगे. भारतीय कप्तान विराट कोहली भी इससे सहमत हैं. बीसीसीआई की जारी कोशिशों से लग रहा है कि जल्द ही भारत में गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच खेला जा सकता है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।