नई दिल्ली. भारत के हाथों टेस्ट सीरीज में मिली 3-0 की शर्मनाक हार को दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी अभी भुला नहीं पाए हैं. टीम के कप्तान फाफ डुप्लेसिस ने भारत दौरे को लेकर बड़ा बयान दिया है. दक्षिण अफ्रीकी कप्तान ने कहा है कि भारतीय टीम ने परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाया. उन्होंने दिन में काफी रन बनाए और हमसे उस समय बल्लेबाजी कराई जब रोशनी कम हो जाती थी. इसके अलावा पूरी टी-20 और टेस्ट सीरीज में टॉस नहीं जीत पाए डुप्लेसिस ने टॉस को लेकर भी निराशा जाहिर की. उन्होंने टीम के कोचिंग स्टाफ को लेकर भी सवाल उठाए.

भारत ने तीन मैच की टेस्ट सीरीज में दक्षिण अफ्रीका को 3-0 से हराया था. इस बड़ी हार का दर्द कप्तान डुप्लेसिस भुला नहीं पा रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत दौरे पर टॉस की भूमिका अहम रही. भारत ने तीनों टेस्ट में टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी चुनीं. हमें हर बार बाद में बल्लेबाजी मिली. टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने परिस्थियों का पूरा फायदा उठाया और काफी रन बनाए. जिसका स्वाभाविक दबाव हमपर आया. फिर खेल के अंतिम सत्र में हमें उस समय बल्लेबाजी के लिए बुलाया जब रोशनी कम हो जाती थी.

फाफ ने भारत के खिलाफ मिली हार के बारे में आगे कहा कि हर मैच में भारत ने 500 रन बनाए और पारी घोषित की. फिर अंधेरा होने पर हमें बल्लेबाजी के लिए बुलाया और हमारे शीर्ष बल्लेबाजों के विकेट ले लिए. शीर्ष बल्लेबाजों के आउट होने और भारत के बड़े स्कोर के दबाव से हम पूरी सीरीज में उबर ही नहीं पाए. हमें ऐसा लग रहा था मानों वे पूरी सीरीज में कॉपी पेस्ट कर रहे थे. पहले बड़ा स्कोर, फिर पारी घोषित, फिर हमारे विकेट लेना सब एक जैसा हो रहा था. मेरा मानना है कि विदेशी दौरों पर टॉस की प्रथा खत्म कर देना चाहिए ताकि मेहमान टीम को थोड़ा तो फायदा मिले.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।