नजरिया. विधानसभा चुनाव हो चुके हैं, नतीजे आने वाले हैं, लेकिन एग्जिट पोल के कारण अभी भी सियासी तेरी-मेरी जारी है? अरे, जो नतीजे आने होंगे, आएंगे! तेरी-मेरी करने से परिणाम बदल तो नहीं जाएंगे? फिर काहे की तेरी-मेरी? एग्जिट पोल का मजा लीजिए! हरियाणा विधानसभा चुनाव को लेकर एग्जिट पोल में हंग असेंबली की संभावनाएं क्या नजर आई कि सोशल मीडिया एकदम एक्टिव हो गया, मानो चुनाव परिणाम ही आ गया हो? अरे भाई! एग्जिट पोल तो आधी हकीकत, आधा फसाना, जैसे होते हैं? सही निकले तो हंगामा मच जाएगा कि एकदम सटीक नतीजे, नहीं निकले तो किन्तु-परन्तु तलाश लेंगे!

बहरहाल, एग्जिट पोल के अनुसार, इस बार हरियाणा को किसी भी पार्टी को को स्पष्ट बहुमत मिलता नहीं नजर आ रहा है. भरोसा करें तो इस बार बीजेपी-कांग्रेस में कांटे की टक्कर है, लिहाजा एग्जिट पोल के अनुमान सही साबित हुए, तो फिर हरियाणा विधानसभा के इतिहास में ऐसा चौथी बार होगा कि बहुमत को सब देखते ही रह जाएंगे! खबर है कि.... एग्जिट पोल के अनुसार सत्ताधारी बीजेपी को 32 से 44 के बीच सीट मिलती नजर आ रही हैं, तो सत्ता की प्रतीक्षा में सक्रिय कांग्रेस को 30 से 42 सीट मिलने का अनुमान है.

जेजेपी को 6 से 10 सीटें, तो शेष को 6 से 10 सीटें मिल सकती हैं. अब 90 सदस्यीय हरियाणा विधानसभा में बहुमत के लिए 46 सीटें चाहिएं, लिहाजा एग्जिट पोल सही साबित हुए तो नतीजों के बाद भी सियासी सिनेमा चलता रहेगा! जनता की समस्याएं तो आसानी से सुलझने वाली नहीं हैं, इसलिए एग्जिट पोल को मनोरंजन प्रोग्राम मानकर सियासी सिनेमा आनंद लें?

*यह भी पढ़ें....  अब एग्जिट पोल से अलग नतीजों पर चर्चा क्यों? 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।