नई दिल्ली. जामिया मिलिया इस्लामिया में मंगलवार को छात्र गुटों के बीच झड़प होने से माहौल तनावपूर्ण हो गया. यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में इजरायल को पार्टनर बनाए जाने के विरोध में कुछ छात्र पिछले नौ दिनों से हड़ताल पर बैठे हैं. वे मामले में अनुशासनहीनता के लिए यूनिवर्सिटी प्रशासन से पांच छात्रों को कारण बताओ नोटिस भेजे जाने से नाराज हैं. घटना के प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, हड़ताली छात्र परिसर में मार्च निकाल रहे थे. इसी दौरान जब वे लोग पदयात्रा करते हुए कुलपति दफ्तर के पास पहुंचे तो उन पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया. इससे कई छात्रों को गंभीर चोटें आईं. घायलों को होली फैमिली अस्पताल में भर्ती कराया गया.

साउथ ईस्ट दिल्ली के डीसीपी ने बताया कि जामिया यूनिवर्सिटी के कुछ छात्रों ने शिकायत दर्ज कराई है. छात्रों का आरोप है कि यूनिवर्सिटी प्रशासन के कहने पर मंगलवार को कुछ लोगों ने उन पर हमला किया था. 5 छात्रों को यूनिवर्सिटी की ओर से नोटिस जारी किए जाने के विरोध में वे यह प्रदर्शन कर रहे थे. घटना से माहौल में पैदा हुए तनाव को देखते हुए पुलिस बल ने परिसर को अपने कंट्रोल में ले लिया.

हमले को लेकर प्रदर्शनकारी छात्रों और जामिया प्रशासन के अपने-अपने तर्क हैं. यूनिवर्सिटी प्रशासन के मुताबिक कुछ छात्र संगठनों ने मार्च करते हुए वीसी ऑफिस का घेराव किया. उन्होंने सभी रास्तों को ब्लॉक कर दिया. इसके बाद कुछ टीचर्स प्रदर्शन में शामिल छात्रों से मिलने गए. उनसे घेराबंदी न करने का अनुरोध किया. साथ ही छात्रों के ज्ञापन पर चर्चा करने और अपने प्रतिनिधियों को बात करने के लिए भेजे जाने का अनुरोध किया.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।