हस्‍तरेखा में सूर्य का अपना महत्‍व है. यह व्‍यक्‍ति के जीवन को कई प्रकार से प्रभावित करता है. सुखविंदर सिंह के अनुसार यदि हाथ में सूर्य पर्वत उभरा हुआ और स्‍प्‍ष्‍ट है तो फिर व्‍यक्‍ति को जीवन में सफलता मिलना तय है.

हथेली में सूर्य पर्वत न होने पर वह जातक मंद बुद्धि या निरक्षर होता है. यदि यह पर्वत कम विकसित हो तो ऐसे व्यक्ति सौंदर्य के प्रति रुचि होते हुए भी उसमें पूर्ण सफलता प्राप्त नहीं कर पाते. स्पष्ट रूप से विकसित सूर्य पर्वत आत्मविश्वास, सज्जनता, दया, उदारता तथा धन वैभव की सूचना देता है.

ऐसे व्यक्ति समाज में दूसरों को प्रभावित करने की अद्भुत क्षमता रखते हैं. ऐसे जातक सम्मानित भी होते हैं. सूर्य पर्वत जरूरत से ज्यादा विकसित होने पर वह झूठी प्रशंसा करने वाला, फिजूलखर्ची वाला और झगड़ालू भी होता है. ऐसे लोग जीवन में पूर्ण सफलता नहीं पाते. इनकी मित्रता भी सामान्य लोगों तक रहती हैं.

यदि सूर्य पर्वत शनि की ओर झुका हो तो वह व्यक्ति एकांतप्रिय और निराशावादी होता है एवं उसके पास सदैव धन की कमी बनी रहती है. ऐसे जातक एक कार्य को पूर्ण होने से पहले दूसरे कार्य में लग जाते हैं. इस वजह से दोनों कार्य पूरे नहीं होते. शनि की ओर झुका सूर्य पर्वत भाग्यहीनता की निशानी होती है.

यह पर्वत यदि बुध की ओर झुका हो तो ऐसा जातक सफल व्यापारी और धनवान होकर समाज में सम्मान पाता है. सूर्य पर्वत पर ज्यादा रेखाएं व्यक्ति को बीमार बनाती है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।