बेंगलुरु. आर्थिक सुस्ती के बीच देश के ऑनलाइन रिटेलर्स ने हाल में खत्म हुई पांच दिनों की फेस्टिव सेल में अब तक की सबसे अधिक तीन अरब डॉलर की बिक्री की है. यह आंकड़ा पिछले साल के मुकाबले 30 पर्सेंट अधिक है. हालांकि, सेल्स का शुरुआती आंकड़ा पहले 3.7-3.8 अरब डॉलर के अनुमान से कुछ कम है.कंसल्टिंग फर्म रेडसीर की रिपोर्ट के मुताबिक, फेस्टिव सेल के दौरान फ्लिपकार्ट का मार्केट शेयर 60 पर्सेंट से अधिक रहा, जबकि ऐमजॉन की हिस्सेदारी 30 पर्सेंट पर रही.

ऐनालिस्टों ने बताया कि त्योहारी अवधि में फ्लिपकार्ट ग्रुप की बिक्री में पिछले साल के मुकाबले 58 पर्सेंट इजाफा हुआ है. ऐमजॉन की ग्रोथ पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले 22 पर्सेंट रही. हालांकि, ऐमजॉन ने कंसल्टिंग फर्म के बयान को गलत ठहराया है. कंपनी के प्रवक्ता ने बताया, 'हम ऐसी रिपोर्ट्स पर कॉमेंट नहीं कर सकते, जिन्हें मजबूत और विश्वसनीय ढंग से तैयार न किया गया हो.' उधर, फ्लिपकार्ट ने इस खबर से जुड़े इकनॉमिक टाइम्स के सवालों का जवाब नहीं दिया.

पिछले हफ्ते फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन दोनों ही ने भारत के ई-कॉमर्स सेक्टर में सबसे आगे होने का दावा किया था. उन्होंने कहा था कि छोटे शहरों के ग्राहकों की संख्या बढ़ने से उनके बिजनस में अच्छी ग्रोथ हुई है. रेडसीर कंसल्टिंग के फाउंडर और CEO अनिल कुमार ने बताया, 'आर्थिक सुस्ती के बावजूद फेस्टिव सेल के पहले चरण में लगभग तीन अरब डॉलर की रिकॉर्ड GMV दर्ज हुई है. इससे ऑनलाइन शॉपिंग में ग्राहकों का अच्छा सेंटिमेंट बरकरार रहने का पता चलता है.'

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।