तमिलनाडु राज्य का शहर ऊटी नीलगिरि की पहाड़ियों में बसा पर्वतीय हिल स्टेशन है. कभी इसका पुराना नाम उटकमंड और उदगमंडलम भी हुआ करता था. कर्नाटक व तमिलनाडु की सीमा पर बसा यह शहर प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग समान है. यूं तो मैं अनेक जगह घूम चुकी हूं, पर मुझे ऊटी की वादियां व माहौल बहुत भाया. यहां चारों ओर हरियाली ही हरियाली नजर आती है. इन्हीं हरे-भरे पेड़ों व सुंदर पहाड़ियों की वजह से ऊटी का नैसर्गिक सौंदर्य मन को मोह लेता है.

वैसे तो वर्ष भर यहां का मौसम सुहावना रहता है, मगर सर्दियों के दिनों में मौसम बेहद ठंडा हो जाता है. सर्दियों में यहां इतनी धुंध हो जाती है कि पास खड़े लोग ही नहीं दिखाई देते. ऊटी के पास नीलगिरि पहाड़ियों के कारण इसकी सुंदरता अधिक बढ़ जाती है. नीलगिरि की पहाड़ियों को ब्लू माउंटेन भी कहा जाता है. इन पहाड़ियों पर नीले रंग के फूल खिलते हैं, जिससे यहां की वादियां नीले फूलों के कारण नीले पर्वतों के समान हो जाती हैं, जो बहुत सुंदर लगती हैं. चाय के बागानों के लिए भी ऊटी प्रसिद्ध है. मैं पहली बार अपनी तमिल फिल्म की शूटिंग के चलते ही ऊटी गई थी.

मुझे आज भी याद है, उन दिनों सर्दियों का मौसम था. शूटिंग के दौरान आस-पास सिर्फ धुंध ही धुंध दिखाई दे रही थी. यहां तक कि सहयोगी कलाकार तक धुंध में नजर नहीं आ रहे थे. सर्दी इतनी थी कि हाथ-पांव भी काम करना बंद कर चुके थे. डांस का सीन था तो डायरेक्टर के कहने पर कुछ घूंट ब्रांडी पीनी पड़ी, ताकि बदन में गर्माहट आ सके और डांस शूट पूरा हो सके. कुछ इस तरह से वह शूट पूरा किया गया. ऊटी में पर्यटकों के लिए बहुत कुछ देखने लायक है. प्रकृति प्रेमियों के लिए बॉटेनिकल गार्डन है, जिसमें दुर्लभ व कई किस्मों के पौधे लगे हैं. इस गार्डन में कई साल पुराने पेड़ भी नजर आते हैं.

ऊटी स्थित रोज गार्डन में पर्यटकों को ऐसे-ऐसे गुलाब के फूल देखने को मिलेंगे, जिन्हें पहले कभी नहीं देखा होगा. बताते हैं कि यह भारत का सबसे बड़ा रोज गार्डन है. ऊटी की झीलें व नीलगिरि की पहाड़ियां तो मन मोह लेती हैं. झील में पर्यटक बोटिंग का लुत्फ भी उठा सकते हैं. यहां के जंगलों में लुप्त हो चुकी प्रजातियों के कई जानवर भी देखे जा सकते हैं. परिवार व बच्चों सहित घूमने के लिए ऊटी में ‘डॉल्फिंस नोज’ नामक जगह है. यहां से पूरी ऊटी व आस-पास का दृश्य बहुत सुंदर एवं विहंगम नजर आता है. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।