नयी दिल्ली. केंद्र सरकार ने स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) की सुरक्षा पाने वाले लोगों के लिए नया दिशा-निर्देश जारी किया है.केंद्र सरकार ने कहा है कि एसपीजी कवर रूल के किसी भी नियम को हल्के में नहीं लिया जा सकता. सूत्रों के मुताबिक, केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि एसपीजी सुरक्षा पाए लोग जब भी विदेश यात्रा करेंगे, तब उनके साथ एसपीजी सुरक्षाकर्मी मौजूद रहेंगे.

अगर एसपीजी सुरक्षा पाने वाले अपने विदेश यात्रा के दौरान एसपीजी को साथ लेकर नहीं जाते हैं तो उनकी यात्रा को रद्द भी किया जा सकता है. ध्यान रहे कि अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गांधी परिवार के ही तीनों सदस्यों, सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को ही एसपीजी कवर मिला हुआ है.

माना जा रहा है कि केंद्र की ओर से यह बदलाव कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की हाल के दिनों में कोलंबिया यात्रा करने की खबर आने के बाद की गई है. कांग्रेस प्रवक्ता बृजेश कलप्पा ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि यह सीधा-सीधा निगरानी रखने का मामला है. हालांकि, बीजेपी ने कांग्रेस के इस आरोप को सिरे से नकार दिया है.

कांग्रेस ने लगाया जासूसी का आरोप

यही वजह है कि कांग्रेस पार्टी इस फरमान को गांधी परिवार पर सरकारी निगरानी रखे जाने की मंशा से जोड़ रही है. कांग्रेस प्रवक्ता बृजेश कलप्पा ने मीडिया रिपोर्ट्स में कहा कि यह सीधा-सीधा निगरानी रखने का मामला है. हालांकि, बीजेपी ने कांग्रेस के इस आरोप को सिरे से नकार दिया है. कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए दिग्गज नेता टॉम वडक्कन ने इसे केंद्र सरकार की जिम्मेदारी बताया है. गौरतलब है कि एसपीजी सुरक्षा के दायरे में गांधी परिवार के तीन सदस्य आते हैं. सोनिया, राहुल के अलावा प्रियंका गांधी वाड्रा को भी एसपीजी सुरक्षा मिली हुई है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।