मुंबई (व्हाट्सएप- 9372086563). अभिनेता रोहिताश्व गौड़ जो कॉमेडी सीरियल- भाबीजी घर पर हैं, में मनमोहन तिवारी के किरदार के लिए खासे लोकप्रिय हैं, अपने आप को भाग्यशाली व्यक्ति मानते हैं. उनकी और उनकी पत्नी रेखा गौड़ की दो खूबसूरत बेटियां हैं- गीति और संजीति, जो उनके जीवन में फरिश्तों से कम नहीं हैं. उनके बारे में बोलते हुए रोहिताश कहते हैं- जब से मेरी बेटियां मेरे जीवन में आईं, मेरे लिए दुनिया बदल गई.

मैं 180 वर्ग फुट के छोटे कमरे में रहता था और बाद में जब मेरी बड़ी बेटी का जन्म हुआ और मैं सीधे 2बीएचके फ्लैट में शिफ्ट हो गया, तो मुझे नहीं पता था कि फंड कैसे मिलेगा? हमारे जीवन में उनकी उपस्थिति ने, हमारे भाग्य को बदल दिया. यही कारण है कि मुझे लगता है कि बेटियां महान हैं और मैं हमेशा बेटी रखना चाहता था. वे कहते हैं- अगर मैं किसी चीज की गलत व्याख्या करता हूं तो वे तुरंत उसे सही करतीं हैं और मुझे याद दिलाती हैं. इसीलिए, मुझे कभी-कभी लगता है कि मेरे आसपास दो देवियां हैं.

उनके बारे में अपनी सोच की बात करते हुए, वे कहते हैं- उनके लिए मेरा सपना उनका सुंदर जीवन है. उन्हें वह सब कुछ मिले, जो वे जीवन में प्राप्त करना चाहती हैं. साथ ही, मैं चाहता हूं कि उनके जीवन में किसी भी तरह के नकारात्मक लोगों की मौजूदगी नहीं हो. लोग मासूमियत का फायदा उठाते हैं इसलिए मुझे लगता है कि उन्हें अच्छे को बुरे से अलग करने की समझ रहे. उन्हें किसी पर निर्भर नहीं होना चाहिए और अपने जीवन का फैसला खुद लेना चाहिए.

रोहिताश्व कहते हैं- हिंदी में एक कहावत है कि लड़की पराया धन होती है, जो सच है. यह एहसास मुझे बेचैन भी कर देता है, लेकिन यही जीवन है. मेरी बेटियों के साथ जीवन बेहद सुंदर है!

* Meri choti beti sanjiti kabhi mere sath Angoori banti hai kabhi Anita bhabhi….
https://twitter.com/RohitashvG/status/1160055308061835264

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।