मुंबई का फेफड़ा कहे जाने वाले आरे कॉलोनी के जंगल को बंबई हाईकोर्ट ने जंगल मानने से इनकार कर दिया और सरकार को मेट्रो कार शेड के लिए वहां करीब 2700 पेड़ काटने की इजाज़त दे दी. कोर्ट के आदेश के बाद कल रात आरे के पेड़ों को काटने का काम शुरू कर दिया गया. इन पेड़ों को बचाने लिए लंबे समय से आम लोगों के साथ-साथ कई फिल्मी सितारे भी संघर्ष कर रहे थे. लेकिन अदालत ने पेड़ बचाने वालों की याचिका को खारिज कर दिया.

अब सरकार के इस कदम की सिनेमा के कई सितारों ने आलोचना की है. दीया मिर्ज़ा, विशाल ददलानी. स्वरा भास्कर और अशोक पंडित जैसी हस्तियों ने ट्वीट के ज़रिए पेड़ काटे जाने का विरोध किया है.

दीया मिर्ज़ा ने ट्विटर पर महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस और बीएमसी को टैग करते हुए एक वीडियो शेयर किया और लिखा, "क्या ये गैरकानूनी नहीं है? ये अभी आरे में हो रहा है. क्यौं ? कैसे?"

अपने इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए दीया मिर्ज़ा ने लिखा, " ऐसा माना जाता है कि मंज़ूरी मिलने और आधिकारिक वेबसाइट पर नोटिस अपलोड होने के बाद 15 दिन का इंतज़ार किया जाता है. लेकिन यहां कोई इंतज़ार नहीं किया गया. हमारे पेडों को काटा जा रहा है जबकि नागरिक इसे रोकने के लिए बेताब हैं."

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।