विशाखापत्तनम. भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने टेस्ट क्रिकेट में संयुक्त रूप से सबसे कम मैचों में 350 विकेट पूरे कर लिए हैं. साउथ अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम टेस्ट मैच के पांचवें दिन उन्होंने थेयुनिस डे ब्रूयन को आउट कर यह मुकाम हासिल किया. इसके साथ अश्विन ने सबसे कम मैचों (66 टेस्ट) में यह मुकाम हासिल करने के मुथैया मुरलीधरन के रेकॉर्ड की बराबरी कर ली. श्रीलंका के इस दिग्गज स्पिनर ने 66वें मैच में यह उपलब्धि हासिल की थी. मुरली ने कोलंबों में बांग्लदेश के खिलाफ 6 सितंबर 2001 को 350 का आंकड़ा छुआ था.

अश्विन को इस मैच से पहले 350 विकेट हासिल करने के लिए 8 विकेटों की दरकार थी. मैच की पहली पारी में उन्होंने सात विकेट लिए थे. मैच के 5वें और अंतिम दिन अश्विन ने डे ब्रूयन को बोल्ड कर इस वर्ल्ड रेकॉर्ड की बराबरी कर ली.

भारत की ओर से अनिल कुंबले ने सबसे कम टेस्ट मैचों में 350 टेस्ट विकेट हासिल किए थे. कुंबले ने न्यू जीलैंड के खिलाफ 8 अक्टूबर 2003 में अपने करियर के 77वें टेस्ट (अहमदाबाद) में 350 विकेट पूरे किए थे. हरभजन सिंह ने 83 और कपिल देव ने 100वें टेस्ट में 350 विकेट पूरे किए थे.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।