श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के तेजी से मुख्यधारा में लौटने के संकेत मिल रहे हैं. इसकी अगुवाई वहां के नौजवान करते दिख रहे हैं चाहे वो युवक हों या युवतियां. घाटी के नौजवान ना केवल सेना में भर्ती होने के लिए आगे आ रहे हैं बल्कि खेलों में भाग लेने में भी रूचि दिखा रहे हैं. ऐसा ही एक मामला नवरात्रि के खास मौके पर सामने आया है.

दरअसल, जम्मू कश्मीर के कटरा में नवरात्रि के मौके पर मिशन दोस्ती महा दंगल कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है. इस कुश्ती प्रतियोगिता की खास बात ये है कि इसमें पहली बार एक कश्मीरी महिला पहलवान भाग ले रही हैं. जम्मू कश्मीर की इस पहली महिला पहलवान का नाम नाहिदा नबी है. इनका मानना है कि युवतियों को बड़ी संख्या में खेलों में भाग लेना चाहिए.

नाहिदा नबी ने इस मौके पर कहा कि अगर सरकार मेरे लिए कुछ व्यवस्था कर देती है कि मैं लड़कियों की एक टीम को प्रशिक्षित कर सकती हूं. उन्होंने कहा कि, घाटी में लड़कियों को खेल का मूल्य पता नहीं है. नाहिदा नबी ने कहा कि, मैं पीएम मोदी से अपील करना चाहती हूं कि वे 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के साथ-साथ, बेटी को बढ़ाओ और बेटी को पहलवान बनाओ' के कार्यक्रम पर भी काम करें. नाहिदा नबी ने बड़ी संख्या में युवाओं से स्पोर्ट्स में भाग लेने का आह्वान किया.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।